कुक्षी~ हज निगरानी समिति के गठन से ही सुगम होगी हजयात्रा~~

ऑल इण्डिया हज वेलफेयर सोसायटी ने की मांग~~

ईफराज मोहम्मद कुरैशी, कुक्षी~~

कुक्षी। ऑल इण्डिया हज वेलफेयर सोसायटी के सेक्रेट्री एबाद अहमद ने प्रेस नोट जारी कर बताया की ऑल इण्डिया हज वेलफेयर सोसायटी ने प्रधानमंत्री भारत सरकार से माँग की है कि हज व्यवस्थाओं के सुचारू क्रियान्वयन के लिये राष्ट्रीय स्तर पर हज निगरानी समिति का गठन किया जाना चाहिये, जिनमें हज सेवा कार्यों से जुड़े समाज सेवियों को भी शामिल किया जाना चाहिये ।ऑल इण्डिया हज वेलफेयर सोसायटी के चैयरमेन मुकीत खान ने कहा कि हज की व्यवस्था एक बड़ा दायित्व है जिसे हज कार्यों से जुड़े समाज सेवियों को साथ लेकर पूरा किया जाना चाहिये, अभी तक बंद कमरे में मनमर्ज़ी के निर्णय लेकर हज के काम को जटिल बनाया जाता रहा है, नई हज पॉलिसी में हज की प्रतीक्षा कर रहे आवेदकों से आरक्षण श्रेणी का लाभ समाप्त कर उनके साथ अन्याय किया गया है ।वहीं हज यात्रा पर 18 प्रतिशत जी.एस.टी. लगाकर पवित्र धार्मिक यात्रा को भी महँगी की गई है । अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पानी के जहाज़ से हज यात्रा का सपना दिखाकर अपनी हज मामले में झूठी सक्रियता का परिचय दे रहै हैं जबकि इस वक्त हज की व्यवस्था में बदलाव की अत्यधिक आवश्यकता है, हज को सस्ता और सुविधाजनक बनाये जाने के प्रति जागरूकता का अभाव नज़र आता है । श्री खान ने कहा कि हज सेवा कार्यो में लगे लोग हज यात्रियों की समस्याओं से भली भांति परिचित होतें हैं, हज पर जाने की इच्छा रखने वालों के समक्ष क्या कठिनाइयां सामने आती है, ये जानकारी उन्हें अधिक होती है । हज निगरानी समिति बनाये जाने और उसमें समाज सेवियों को सदस्यता प्रदान किये जाने से वे हज यात्रियों की समस्या को मज़बूती के साथ सरकार के सामने रख सकेंगे, जिससे हज व्यवस्था में बेहतर सुधार और सुचारू संचालन सम्भव हो सकेगा । साथ ही समिति हज के लिए बनाई जाने वाली नीतियों पर न सिर्फ निगरानी रखेगी बल्कि अपने सुझाव भी प्रस्तुत करेगी। राष्ट्रीय महामंत्री सैयद रियाज़ ने भी भारत सरकार से हज निगरानी समिति के शीघ्र गठन किये जाने के साथ ही उसमें ऑल इण्डिया हज वेलफेयर सोसायटी से जुड़े हर राज्य के प्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित किये जाने की भी माँग की है।

Post A Comment:

0 comments: