धार/सरदारपुर ~ भाजपागीरी की भेंट चढ़ गया गरीब परिवार का चिराग~~
मौत के बाद सांत्वना तक देने नहीं पहुंच पाए भाजपाई~~
शैलेन्द्र पँवार धार~
धार जिले की सरदारपुर विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 196 के गांव भानगढ़ के नारायण (18 वर्ष) पिता फुलचंद कुमावत कि बुधवार शाम को राजगढ़-भानगढ़ मार्ग पर सड़क हादसे में मौत हो गई! बताया जा रहा है कि बालक नारायण राजगढ़ में भाजपा की वाहन रैली में जा रहा था! स्थानीय भाजपाईयो ने छोटे बच्चों को लालच देकर पेट्रोल भरवाने के लिए बुलाया, रास्ते में ही सामने से आ रही बाइक से भिड़ंत हो गई, जिसके बाद कोई भी जवाबदार रुके तक नहीं और ना ही उसकी अस्पताल में खबर लेने पहुंचे! यहां तक कि उसकी मौत के बाद भी कोई भाजपा नेता उसके परिजनों को सांत्वना देने नहीं पहुंचे!
        यूँ तो भाजपा देश का सबसे बड़ा राजनीतिक संगठन है और इसकी रीति नीति से देश की जनता बहुत प्रभावित हुई जिसके बूते पर भाजपा ने केंद्र और राज्य सरकार बनाने में सफलता भी अजित की! भाजपा सरकार ने कई जनहितेषी योजनाओं की सौगात भी जनता को दी है लेकिन कुछ स्थानीय भाजपाइयों की करतूते भाजपा को पलीता लगाने में कोई कमी नहीं छोड़ रही है! भाजपा मंडल अध्यक्ष नवीन बानिया का शासकीय भूमि खरीद फरोख्त मामला हो या भाजपा विधायक वेलसिंह भूरिया की एनकाउंटर की धमकी हो चाहे पत्रकारों की तुलना पशु से कर डालने की अनैतिक घटना हो, इनकी मनमानी के चलते भाजपा की साख को बहुत हद तक बट्टा लगाया गया! भाजपा संगठन के जिम्मेदार अपने निजी स्वार्थ को त्याग कर समय रहते सच्चे भाजपाइयों को समेट लेते तो शायद आज भी पहले की तरह क्षेत्र में भाजपा का रुतबा कायम रहता!
        खैर भाजपा संगठन क्षेत्र में आज क्या रुतबा रखता है यह तो जनता का अंतिम निर्णय ही तय करेगा लेकिन यहां बात हो रही है भाजपा के अपने निजी स्वार्थ के चलते किसी गरीब के घर के चिराग बुझ जाने की! दरअसल बुधवार रात्रि को सरदारपुर विधानसभा क्षेत्र के राजगढ़ में भाजपा के स्टार प्रचारक कैलाश विजयवर्गीय कार्यकर्ताओं में जोश फूंकने और चुनावी रणनीतियो का जायजा लेने पहुंचने वाले थे यह अलग विषय है कि वह नहीं आ पाए! इसीलिए भाजपा के छूट भैया नेताओं ने श्री विजयवर्गीय के सामने अपनी-अपनी मजबूती ( पेठ) दिखाने के लिए लोगों की भीड़ एकत्रित करने के उद्देश्य से वाहनों में पेट्रोल डलवाने का प्रलोभन देकर भीड़ एकत्रित करना शुरू किया!
         इसीलिए समीपस्थ ग्राम भानगढ़ के भाजपाइयों ने भीड़ जुटाई और लगभग  30 - 40 बाइक के साथ राजगढ़ का रूख किया जिसमें बामनखेड़ी के समीप सामने से आ रही बाइक से नारायण (18) नामक बालक की बाइक भिड़ंत में दर्दनाक मौत हो गई!
         पूरे घटनाक्रम को लेकर जब मृतक नारायण के परिजनों से चर्चा की गई तो बताया गया कि नारायण अपने माता पिता का एक ही पुत्र था जिसे भानगढ़ के ही कुछ स्थानीय भाजपाइयों ने बाइक में 250 रूपये का पेट्रोल डलवाने का लालच दिया और कहा कि राजगढ़ तक वाहन रेली निकालकर राजेंद्र कॉलोनी स्थित एक निजी पैलेस पर जाना है! लगभग 30 - 40 बाइक ग्राम भानगढ़ से राजगढ़ पहुंचने ही वाली थी कि बामनखेड़ी के समीप सामने से आ रही बाइक से नारायण की बाइक की भिड़ंत हो गई जिसमें नारायण की मौत हो गई ! परिजनों ने यह भी कहा कि भाजपा को ऐसी राजनीति नहीं करना चाहिए, प्रचार-प्रसार करने के लिए समझदार और अनुभवी कार्यकर्ताओं का सहयोग लेना चाहिए ना की किसी को पेट्रोल या अन्य प्रलोभन देकर प्रचार करवाना चाहिए! घटना के बाद किसी भी भाजपाई ने नारायण की मदद तक नहीं की और ना ही कोई भाजपा नेता परिजनों को सांत्वना देने पहुंचा है!  जिससे परिजनों सहित रिश्तेदार एवं कुछ ग्रामीणों में रोष व्याप्त है!

Post A Comment:

0 comments: