देवास/खातेगांव~ अमावस्या पर्व पर 50,हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने नर्मदा में लगाई डुबकी,~~

सर्द मौसम में शीतल जल में स्नान कर  सिद्धेश्वर भगवान का किया जलाभिषेक,~~

सर्द मौसम से बचने के लिए नगर पंचायत ने लगाए अलाव, पुलिस  ने की सुरक्षा की माकूल व्यवस्था~~

अनिल उपाध्याय खातेगांव~~

अगहन माह की अमावस्या पर्व पर नेमावर के नर्मदा तट पहुंचकर हजारों श्रद्धालुओं ने नर्मदा नदी में स्नान  भगवान सिद्धेश्वर के दर्शन कर  जल अभिषेक किया!

अमावस्या की पूर्व संध्या पर गुरुवार शाम से ही नर्मदा तट पर श्रद्धालुओं का आगमन प्रारंभ हो गया था! बड़ी संख्या में श्रद्धालु पैदल चलकर स्थान पर पूजा अर्चना करने के लिए नेमावर पहुंचे थे !अमावस्या पर शुक्रवार सुबह 4:00 बजे सर्द हवाओं के बीच श्रद्धालुओं ने स्नान प्रारंभ किया जो देर शाम तक चलता रहा श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए प्रशासन ने अलाव की व्यवस्था भी की थी गुरुवार शाम तक पहुंचे श्रद्धालुओं ने मां नर्मदा की संध्या कालीन पूजा-अर्चना की देर रात तक जागरण किया!
शुक्रवार सुबह मां नर्मदा के पवित्र जल में स्नान कर भगवान गजानंद ऋण मुक्तेश्वर पिगलेश्वर  भगवान सिद्धेश्वर का जलाभिषेक कर पूजा अर्चना की गई!
तथा गरीबों को अन्य वस्त्र कंबल आदि का दान किया गया!
श्रद्धालुओं ने मां नर्मदा का पवित्र जल भरकर अपने घर पूजन के लिए  साथ ले गए!
थाना प्रभारी विश्वदिप सिंह परिहार ने बताया कि स्नान  के दौरान अनहोनी ना हो इसलिए पुलिस ने सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए थे !इसके लिए नाव पर तेरात दल तैनात किया! वहीं घाट पर सुरक्षा के लिए पुलिस बल भी 24 घंटे तैनात रहा!
नगर पंचायत परिषद सीएमओ आनंदी लाल वर्मा व अध्यक्ष प्रतिनिधि मंगलेश यादव बताया  कि सर्द मौसम को देखते हुए स्नान के लिए आए भक्तों के लिए रात्रि में तापने  के लिए घाट पर अलाव जलाए जाने की व्यवस्था की गई थी!
ताकि स्नान के बाद लगने वाली तेज सर्दी से राहत मिल सके
मेला प्रभारी ओमप्रकाश यादव ने बताया कि रात्रि में आए तीर्थयात्री की सुविधा के लिए धर्मशाला को खुला रख उस में श्रद्धालुओं को ठहराया गया था वही सभी स्नान वाले घाटों पर प्रकाश की समुचित व्यवस्था की गई थी

Post A Comment:

0 comments: