*बुरहानपुर~ पुरानी रंजिश में मार-पीट, न्यायालय ने दिया आरोपीगण को न्यायालय उठने तक का कारावास एवं 4500 रूपये का अर्थदण्ड~~
                        
बुरहानपुर (मेहलक़ा अंसारी)


न्यायिक दण्डाधिकारी श्री रवि नायक द्वारा आरोपीगण सर्वश्री (1) शेख आज़म (21) पिता शेख फज़ल , किन्नर रीना गुरु उम्र 25 वर्ष और सितारा गुरु तीनो निवासी बोरगांव बुजुर्ग, जिला बुरहानपुर को न्यायालय उठने तक का कारावास एवं 4500 रूपये के जुर्माने से दंडित किया गया। 

प्रकरण की विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुये पैरवीकर्ता अभियोजन अधिकारी श्री सुरेंद्र सिंह वास्केल ने बताया कि  26-06-2018 को शाम 05.00 बजे बोरगांव बुजुर्ग बुरहानपुर की है। घटना के 12 दिन पूर्व फरियादी संतोष पत्नी खोजते हुए आरोपी आज़म के घर गया तो उसकी पत्नि वहां पर मिली। संतोष अपनी पत्नी को घर लेकर आ गया इसी कारण से घटना वाले दिन आरोपी आज़म फरियादी संतोष को  गालिया दी, संतोष ने गाली देने से रोका, आज़म ने लोहे के सरिये से मार-पीट की तथा आरोपीगण रीना गुरु और सितारा गुरु ने संतोष को हाथ मुक्कों से मारा और जान से मारने की धमकी भी दी। मारपीट में संतोष को सिर व शरीर में अन्य जगह चोटें आई थी। फरियादी की सूचना पर से थाना गणपती नाका में अपराध पंजीबद्ध कर आरोपीगण के विरूद्ध भादवि की धारा 294, 323, 506/34 भाग-2 के अंतर्गत अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया ।

प्रकरण में सफलता पूर्वक पैरवी अभियोजन अधिकारी श्री सुरेंद्र सिंह वास्केल द्वारा करते हुए विचारण पश्चात आरोपीगण को मा. न्यायालय से दोषसिद्ध कराते हुए न्यायालय उठने तक का कारावास और 4500 रूपये के अर्थदण्ड से दंडित कराया। अभियोजन अधिकारी श्री सुरेंद्र सिंह वास्केल द्वारा मा. न्यायालय से निवेदन कर आरोपीगण से वसूली गई अर्थदंड की राशि रूपये 4500 रूपये में से 4000/- रुपये फरियादी संतोष को दिलाए जाने का आदेश कराया गया।


Post A Comment:

0 comments: