खण्डवा ~विकास पुरुष पूर्व विधायक लोकेन्द्र सिंह तोमर नही रहे ~~

मान्धाता  विधानसभा क्षेत्र मे बहा दी थी विकास की गंगा ~~

खण्डवा , संजय चौबे~~


खण्डवा जिले की महत्वपूर्ण विधानसभा सीट मान्धाता के लोकप्रिय जननेता  पूर्व विधायक लोकेन्द्र सिंहजी  तोमर का मुम्बई मे शुक्रवार करीबन ढाई बजे  निधन हो गया. उनके परिवार मे पत्नी कृपा सिंह के अलावा एक पुत्र एवं एक पुत्री है
मान्धाता क्षेत्र के एतिहासिक विकास मे  उनका अविस्मरणीय योगदान था .वे 2008से 2018 तक मान्धाता विधान सभा क्षेत्र से विधायक रहे. दस साल के विधायक कार्यकाल मे उन्होने  विधान सभा क्षेत्र मे शिक्षाके लिये स्कूलो  ,खेती के लिये नहर योजना की भरपूर व्यवस्था की .उन्होने समुचे विधान सभा क्षेत्र मे सड़क का जाल बिछा दिया.पुनासा को तहसील का दर्जा दिलाकर .मून्दी मे डिग्री कालेज ..मून्दी भगवानपुरा  मे आई टीआई की सौगात दिलाकर विकास मे अहम यो गदान दिया.  वे न्याय प्रिय थे और साफ़गोई के लिये विख्यात रहे है. लोकेन्द्र दादा  अद्भुत संगठन क्षमता के धनी. थे.. सत्ता और संग ठन के सभी नेता उन की भाषण  कला के कायल थे ..विकास करने  के मामले मे बहुत ही जीवट नेता थे. वे कहा करते थे की काम ऐसा करो की दुनियां से जाने के बाद लोग याद रखे. वे धीर गम्भीर नेता थे आम आदमी से उन का सीधा जुडाव था.. उन का निधन खंडवा जिले एवं मान्धाता के लिए अपूरणीय क्षति है. समुचे विधान सभा क्षेत्र मे लोकेन्द्र दादा के निधन से शोक की लहर है. वे काफ़ी समय से फ़ेफ़डे सम्बन्धी बीमारी से पीडीत थे.. बीमार रह कर भी लोगों के काम कर ना.. विकास की योजनाओ के लिये पूरी ताकत से काम करते थे.
नर्मदा तट पर धाराजी मे होगा अंतिम संस्कार
दोपहर 12 बजे आम लोगो के दर्शनार्थ रखा जायेगा पार्थिव शरीर
पूर्व विधायक लोकेन्द्रसिह तोमर की अन्त्येष्टि नर्मदा तट पर धाराजी मे की जायेगी । उनकी पार्थिव देह को एम्बुलेन्स के जरिये मुम्बई से ग्रहग्राम रीछफल लाया जा रहा है। दिवंगत पूर्व विधायक लोकेन्द्रसिह तोमर के अनुज लक्ष्म‍णसिह तोमर ने बताया कि अंतिम संस्कार के पूर्व लोकेन्द्र्सिहजी के पार्थिव शरीर को शनिवार दोपहर १२बजे ग्राम रीछफल की हायर सेकेण्डरी स्कूल मैदान पर आम लोगो के दर्शनार्थ रखा जायेगा ।
उसके बाद रीछफलसे करीबन२०किमी दूर धाराजी मे नर्मदा तट पर अन्तेष्टि का कार्यक्रम होगा।


Post A Comment:

0 comments: