देवास~ हरणगांव थाना  के अंतर्गत आने वाले 46 गांव के 50 हजार लोगों को मिल रही हे ,तुरन्त सुरक्षा ~~

अनिल उपाध्याय
खातेगांव देवास~~


1 जनवरी 2019 को मध्य प्रदेश शासन के ग्रह विभाग मंत्रालय के आदेश पर देवास जिले के दो पुलिस चौकियों को थाने में परिवर्तित कर सुविधा प्रदान की थी!
इसमें विजयगंज मंडी चौकी पहले बीएनपी थाना में और हरणगांव चौकी थाना खातेगांव में अाती थी! इन दोनों को थाना बना दिया गया था!
अब ग्रामीणों को आपातकालीन स्थिति में तुरंत पुलिस सुरक्षा मिलने लगी है जिससे ग्रामीणों का समय पैसा और समस्या कम हो गई है!

यह हुआ फायदा
------------
हरणगांव थाने के 46 गांव के
50 हजार  से ज्यादा लोगों को तुरंत सुरक्षा मिल रही है! जिससे लोगों का समय पैसा परेशानी बच रही है! क्षेत्र में अपराध कम हुए हैं ग्रामीणों को पुलिस की तुरंत मदद मिल रही है! पहले पुलिस को पहुंचने में थोड़ा समय लगता था अब पॉइंट मिलते ही पुलिस जवान तुरंत पहुंच जाते हैं!


हरणगांव थाने में 46 गांव
------------------------
हरणगांव थाने में 46 गांव को शामिल किया गया है!,
उनमें अमेली, आमला ,बरखेड़ी, बंडी, भीमताल, चंदपुरा, चांदला खेड़ा, गनोरा ,गोपालपुर,
घोटा मंडली, हरणगांव,जुनापालीखुर्द, बुजुर्ग, खिबनीखुर्द, कुमनगांव, खाता मऊ , ककड़दी, करोन बुजुर्ग, करोंद खुर्द ,काकड़कुई, कोलारी कालीबाई किशनपुर लिंगापानी, लकडानी,  मचवास, मनोरा, नंदा डाई ,निवारदी, ओकारा, पांचापुरा,  पटरानी ,पलासी ,रिछीखो, रतनपुर, सिरालायाखुर्द, सातल, सागोनिया, सांतागांव सिलफोडखेडा, सुलगांव, सतनगरी, उतावली, उमेडा, विक्रमपुर, शामिल हे!


हरणगांव थाने पर पदस्थ
------------------
संतोष वघेला, उप निरीक्षक,
शेषमणि मिश्रा एस आई
मोहन लाल प्रधान आरक्षक
सुनील प्रजापत आरक्षण
शिवप्रसाद धनकर आरक्षक
अनिल उइके आरक्षण.
इनके अलावा कुछ पुलिसकर्मियों भी एक दो रोज में पदस्थ हो सकते हे!


Post A Comment:

0 comments: