भोपाल~ नारी को हौसलों की उड़ान भरने दें: बीके अवधेश बहन जी~~

महिला सशक्तिकरण सम्मेलन में सैकड़ों ब्रम्हाकुमारी बहनों ने भाग लिया~~


भोपाल। आज सृष्टि रचना और सृष्टि के विकास में सदियों से नारी का विशेष योगदान रहा है। या  यह कहें कहें नारी ही सृष्टि की विकास धुरी है। आज के समय में कोई भी समाज नारी के विशेष महत्व को नकारा नहीं जा सकता। यदि हम सच में अपने समाज, परिवार को विकास करते हैं या विकास चाहते हैं तो महिला शिक्षा, महिला सशक्तिकरण के महत्व को समझना पड़ेगा। आज जरूरत है कि हम महिलाओं के खिलाफ रूढ़ीवादी सोच को बदलें और उनके खिलाफ होने वाले अत्याचार व शोषण को रोकें। यह बात शनिवार शाम राज योग भवन में आयोजित नारी सशक्तिकरण सम्मेलन में ब्रह्मा कुमारी की जोनल डायरेक्टर बीके अवधेश बहन जी ने कही। सम्मेलन में कई वक्ताओं ने भाग लिया और अपने विचार व्यक्त किए।
बीके अवधेश बहन ने आगे कहा कि स्त्री का सम्मान ही ईश्वर का सम्मान है। नारी के प्रति श्रद्धा और आदर भाव रखना अर्थात ईश्वर को श्रद्धा और आदर भाव देना है। आज आवश्यकता है नारी को उसके हौसलों की उड़ान भरने दें। उन्हें हर क्षेत्र में आगे बढऩे दें। वर्तमान में कहीं-कहीं देखने में आता है कि समाज में व्याप्त कुरीतियों और रीति-रिवाजों के कारण कई क्षेत्रों में दबना पड़ता है, लेकिन अब महिलाओं को समानता और सम्मान की नजर से देखते हुए उन्हें प्रोत्साहित करना होगा। उन्होंने कहा कि महिलाओं का सम्मान ही प्रदेश का मान बढ़ाता है। किसी भी देश की शान महिलाओं से ही होती है। शिक्षित  और सुस्संकारवान महिला ही देश की ऊर्जा हैं।  कार्यक्रम की मुख्य अतिथि  श्रीमती अनुराधा सिंह, अध्यक्ष इंडो यूरोपियन चेंबर ऑफ कॉमर्स ने कहा कि नारी को सशक्तिकरण की आवश्यकता नहीं है, वह खुद शक्ति का रूप है। वर्तमान में नारी को अपनी शक्ति को पहचानने की आवश्यकता है। ब्रह्माकुमारी संस्थान इसका जीता जागता उदाहरण है, जो देश विदेश में समाज परिवर्तन के लिए और संसार को स्वर्णिम बनाने में निरंतर काम कर रहा है। अपना जीवन जीवन समाज को समर्पित कर ब्रम्हाकुमारी बहनें सेवा में लगी हुई हैं। कार्यक्रम की मुख्य वक्ता ब्रह्मकुमारी पूनम दीदी ने जीवन में तनाव प्रबंधन के गुण बताए। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में भक्ति शर्मा दीप्ति आर सिंह श्रीमती उषा खरे डॉ आदित्य सिंगल दिल्ली शामिल हुईं। मंच संचालन ब्रह्मकमारी शैलजा दीदी ने किया। 

नारी सशक्तिकरण कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए डॉ बीके रीना बहन ने बताया कि ब्रह्मकुमारी संस्था की बहनें समाज में शांति एवं स्वर्णिम संसार के निर्माण के लिए निरंतर काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन संस्था द्वारा लगातार किए जाते हैं, जिनसे समाज को सुखी बनाने के लिए प्रेरित किया जाता है। नारी सशक्तिकरण सम्मेलन में देशभर से सैकड़ों की संख्या में ब्रह्मकुमारी बहनें शामिल हुईं।


Post A Comment:

0 comments: