।। *सुप्रभातम्* ।।
                 ।। *संस्था  जय  हो* ।।
          ।। *दैनिक  राशि  -  फल* ।।
        आज दिनांक 06 अप्रैल 2019 शनिवार संवत् 2076 मास चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि अपराह्न 03:24 बजे तक रहेगी उपरांत द्वितीया तिथि लगेगी । आज सूर्योदय प्रातः काल 06:11 बजे एवं सूर्यास्त सायं 06:46 बजे होगा ।रेवती नक्षत्र प्रातः 07:22 बजे तक रहेंगा पश्चात अश्विनी नक्षत्र आरंभ होगा । आज का चंद्रमा प्रातः 07:22 बजे तक मीन राशि में भ्रमण करते हुए मेष राशि में प्रवेश करेंगे । आज का राहू काल प्रातः 09:21 से 10:59 बजे तक रहेंगा । दिशाशूल पूर्व दिशा में रहेंगा यदि आवश्यक हो तो उडद का सेवन कर यात्रा आरंभ करें । जय हो 


                    *विशेष :*
            *चैत्र शुक्ल प्रतिपदा :*
हिन्दू पंचांग के बारह महीनों के क्रम में पहले चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा वर्षभर की सभी तिथियों में इसलिए सबसे अधिकमहत्व रखती है क्योंकि मान्यता के अनुसार इसी तिथि पर ब्रह्मा ने सृष्टि की रचना प्रारंभ की।
इस तिथि को प्रथम स्थान मिला, इसलिए इसे प्रतिपदा कहा गया है।
जब ब्रह्मा ने सृष्टि का प्रारंभ किया उस समय इसे प्रवरा तिथि सूचित किया था, जिसका अर्थ है सर्वोत्तम।
इस अर्थ में यह वर्ष का सर्वोत्तम दिन है जो सिखाता है कि हम अपने जीवन में सभी कामों में, सभी क्षेत्रों में जो भी कर्म करें, उनमें हमारा स्थान और हमारे कर्म लोक कल्याण की दृष्टि से श्रेष्ठ स्थान पर रखे जाने योग्य हों।
इसे संवत्सर प्रतिपदा भी कहते हैं। सिंधी समाज का पर्व चेटीचंड भी वर्ष प्रतिपदा के अगले दिन शुरू होता है। शुक्ल पक्ष में चांद अपने पूरे सौन्दर्य के साथ आकाश में विराजमान होता है। इसलिए चैत्रचंद्र का देशज रूप हुआ चैतीचांद और फिर सिंधी में हुआ चेटीचंड।
महाराष्ट्र में यह पर्व गुड़ी पाड़वा ( गुढी पाड़वा) के नाम से मनाया जाता है।
वैसे नवसंवत्सर के लिए गुड़ी पड़वा अब समूचे देश में सामान्य तौर पर जाना जाने लगा है।
महान गणितज्ञ भास्कराचार्य ने प्रतिपादित किया है कि चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से दिन-मास-वर्ष और युगादि का आरंभ हुआ है।
नववर्ष प्रतिपदा मनाने के महत्वपूर्ण पौराणिक तथ्य :
1. वासंती नवरात्री का प्रारम्भ |
2. नवसंवत्सर आरम्भ |
3. राम राज्याभिषेक |
4. युधिष्ठिर राज्याभिषेक |
5. झुलेलाल जयंती |
6. स्वामी दयानंद जन्मदिवस |
7. गुरु अंगददेव जी का जन्मदिवस |
8. ब्रह्मा जी द्वारा सृष्टि की रचना |
9. आद्यासरसंघचालक श्री केशव बलिराम हेडगेवार जी का जन्मदिवस |
10. महाराज विक्रमादित्य द्वारा नूतन संवत्सर प्रारंभ | जय हो

                 *ज्योतिषाचार्य*
         डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
         श्री मंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245, एम. रोड.(आनंद चौपाटी) धार एमपी.
                मो. नं.  9425491351

                   *आज का राशि फल*
         
          मेष :~ कम समय में अधिक लाभ पाने के विचार में आप फँस न जाएँ इस का ध्यान रखें । कोर्ट-कचहरी के विषय में न पडने की और किसी के जामीनदार न बनने  की सलाह है। मानसिक रूप से आप की एकाग्रता कम रहेगा। शारीरिक स्वास्थ्य संभाले । धन सम्बंधित लेन-देन में ध्यान रखिएगा। भ्रांति और दुर्घटना से संभलकर चले ।

          वृषभ :~ पुराने व बचपन के मित्रों से भेंट के कारण मन में आनंद छाया रहेगा। नए मित्र भी बनने की संभावना है। व्यवसायिक एवं आर्थिक रूप से लाभ होगा। फिर भी मध्याहन के बाद संभलकर चले । शारीरिक और मानसिक रूप से स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। पूँजीनिवेश करते हुए सावधानी बरते ।

          मिथुन :~ व्यवसायिक क्षेत्र में उच्च अधिकारीगण की कृपादृष्टि से आप की प्रगति का मार्ग निर्विध्न हो जाएगा। व्यापार में भी आय बढने की और उगाही की वसूली की संभावना है। पिता और बडों के आशीर्वाद से लाभ होगा। मध्याहन के बाद मित्रों से लाभ होगा। किसी सामाजिक प्रसंग में उपस्थित रहना पड सकता है। आकस्मिक धनलाभ होने की भी संभावना है।

          कर्क :~ उच्च अधिकारियों के साथ वाणी और व्यवहार में संभलकर चले । शारीरिक रूप से अस्वस्थता और मानसिक चिंता बनी रहेगी। व्यापार में विध्न आने की भी संभावना है। परंतु मध्याहन के बाद व्यवसायिक क्षेत्र में आप के लिए परिस्थिति अनुकूल रहेगी। ऊपरी अधिकारीगण आप के कार्य से संतोष का अनुभव करेंगे। आर्थिक दृष्टि से भी लाभ रहेगा।

          सिंह :~ स्वास्थ्य संभाले । संभवतः सरकार विरोधी प्रवृत्तियों से दूर रहें । मानसिक रूप से व्यग्रता बनी रहेगी। परिवारजनों के साथ कलह के प्रसंग बन सकते हैं। ईष्टदेवता का नामस्मरण एवं आध्यात्मिकता का अनुसरण इन समस्याओं का निवारण है। यथासंभव आपने उच्च अधिकारी, प्रतिस्पर्धियों के साथ वाद-विवाद में न उतरें।

          कन्या :~ प्रातः काल का समय मित्रों के साथ घूमने-फिरने, खान-पान एवं मनोरंजन में आनंदपूर्वक बीत जाएगा। भागीदारों के साथ भी आज सम्बंध अच्छे रहेंगे। स्वास्थ्य आप को सताएगा। विशेष रोग के पीछे आकस्मिक खर्च हो सकता है। परंतु साथ- साथ आकस्मिक धनलाभ भी आप की चिंता को कम कर देगा।

          तुला :~ गृहस्थजीवन में सुख और शांति बनी रहेगी। शारीरिक स्वास्थ्य बना रहेगा। स्वभाव में उग्रता बनी रहेगी, इसलिए वाणी पर संयम रखें । मध्याहन के बाद आप की प्रवृत्तियों में परिवर्तन आएगा और आप मनोरंजन की तरफ बढ़ेंगे। मित्रों और स्नेहीजनों के साथ प्रवास या पर्यटन का योग है।

          वृश्चिक :~ मानसिक रूप से आप में भावुकता की मात्रा आज अधिक रहेगी। इसलिए मानसिक रूप से समतुला बनाए रखें । विद्यार्थिगण आज अभ्यास और कैरियर सम्बंधित विषयों में सफलता प्राप्त कर सकेंगे। अपनी कल्पनाशक्ति से साहित्य-सृजन में आप नवीनता ला पाएँगे। घर के वातावरण में सुख-शांति बनी रहेगी।

          धनु :~ पारिवारिक शांति बनाए रखने के लिए निरर्थक वाद-विवाद न करें । माता का स्वास्थ्य खराब रहेगा । धन और प्रतिष्ठा में हानि होने की संभावना है। मध्याहन के बाद आप के स्वभाव में भावुकता बढ़ सकती है। आप की सर्जनशक्ति में सकारात्मक वृद्धि होगी।

          मकर :~ आज आवश्यक निर्णय लेने के लिए वैचारिक दृढता और स्थिरता को सर्वप्रथम स्थान देना होगा। छोटे से प्रवास का आयोजन हो सकता है। भाईयों के साथ संबंधो में निकटता आएगी। परंतु मध्याहन के बाद अरुचिकर घटनाओं से आप का मन अस्वस्थ हो जाएगा।

          कुंभ :~ आज क्रोध और वाणी पर संयम बरते । नकारात्मक विचार मन में न आने दे। खान-पान में भी संयम बरते । मध्याहन के बाद आप वैचारिक स्थिरता के साथ अपने हाथ में आए हुए कार्यों को पूर्ण कर पाएंगे। रचनात्मक अथवा तो सर्जनात्मक क्षेत्र में मान-सन्मान प्राप्त होगा।

          मीन :~ शारीरिक, मानसिक स्वस्थ और उत्साही बने रहेंगे। नए कार्य का शुभारंभ करने के लिए समय अनुकूल है। परिवारजनों के साथ समय आनंद पूर्वक बीतेगा। धार्मिक कार्यों में खर्च होगा। प्रवास या पर्यटन का योग है। परंतु मध्याहन के बाद अपने पर संयम रखें, नहीं तो किसी के साथ वाद-विवाद या झगडा होने की संभावना है । ( डाँ. अशोक शास्त्री  )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री   कृष्ण  ।।  जय  हो,,,,,,,,,,।।


Post A Comment:

0 comments: