देपालपुर~ निकली एक साथ शव यात्रा। पूरा गांव शवयात्रा में शामिल हुवा~~

एक अर्थी पर तीनों को लिटाकर दी मुखाग्नि~~

विधायक ने12 लाख रुपये की शासन से राशि मंजूर करवाई~~

विमल फौजी देपालपुर~~


देपालपुर -बेमौसम बारिश ने एक ही परिवार के तीन सदस्यों को निगल लिया जहां घर का मुखिया और उसके दो बच्चे मौत की नींद सो गए वहीं पत्नी अभी भी जीवन व मौत से इंदौर के एमवाय अस्पताल में संघर्ष कर रही है ।डांसरी गांव में जब तीनो के शव पहुंचे तो परिवार में कोहराम मच गया। जब मृतक की अंतिम  शव यात्रा एक साथ निकली तो पूरा गांव  इनकी अंतिम विदाई में जुट गया और श्मशान घाट पर तीनों को एक ही अर्थी पर लेटाया और करीब 7:30 बजे घर के सदस्य ने मुखाग्नि दी ।परिवार में एकमात्र बेटी जिंदा बची जो शादी में नहीं गई थी।
सोमवार को विधानसभा क्षेत्र के डांसरी गांव के रहने वाले चौकीदार गुणाजी के पुत्र सौदानसिंह 35 वर्ष, पुत्र निरंजन 14 वर्ष, पुत्री मुस्कान 12 वर्ष की घर लौटते समय तेज आंधी तूफान व  बारिश के चलते एक पेड़ के नीचे रुक गए लेकिन ईश्वर को और कुछ मंजूर था।हवा आंधी व पानी से बच तो गए लेकिन आकाशीय बिजली गिरने से मौके पर ही इनकी मौत हो गई थी। व मृतक की पत्नी अनिता गम्भीर घायल होने से 108 की मदद से इंदौर के एम वाय अस्पताल भर्ती करवाया।  इनकी मौत पर क्षेत्रीय विधायक विशाल पटेल ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ जी से प्रत्येक मृतक को 4 - 4 लाख रुपये की अंतरिम मदद मंजूर करवाई।मृतक परिवार को शीघ्र ही राशि के चेक दे दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार को हर संभव मदद की जाएगी।वही पंचायत द्वारा भी मृतक परिवार को शवयात्रा के लिए हाथो हाथ राशि वितरित की।


Post A Comment:

0 comments: