देवास ~ 500 फिट सड़क निर्माण मुसीबत बना वाहन चालकों के लिए,~~

बार-बार लग रहा है जाम,  पुलिस जुटी है बार-बार जाम हटाने मे, ~~

अनिल उपाध्याय खातेगांव /देवास ~~


इंदौर -बैतूल नेशनल हाईवे 59 पर  खातेगांव से 1 किलोमीटर दूर पुराने पेट्रोल पंप से कुछ ही दूरी पर सड़क पर गड्ढों से निजात दिलाने के लिए जिम्मेदार विभाग द्वारा बीते कुछ दिन पूर्व 500 फीट लंबा सीमेंट कंक्रीट रोड का निर्माण किया गया है ! अभी तक पूर्ण नहीं हो पाया अभी भी 500 फिट लम्बा सीमेंट कंक्रीट मार्ग से आवागमन शुरू नहीं किया गया है! जिसके चलते वाहन सड़क के दूसरे भाग से आना जाना कर रहे हैं !लगभग 500 फीट से अधिक लम्बा सिंगल सड़क मार्ग होने के कारण उक्त मार्ग पर लगातार जाम की स्थिति बन रही है, जो पुलिस के लिए सरदर्द बना हुआ है! पुलिस बड़ी मुस्तैदी के साथ वाहनों की क्रॉसिंग करवा रही है!
वाहन चालकों की जरा सी भी चूक दुर्घटना का कारण बन सकती है !अमावस्या पर्व पर वाहनों का अत्यधिक दबाव बन गया है जिस से निपटने के लिए पुलिस ने छोटे चार पहिया वाहनों  को साईं गार्डन यादव मोहल्ले के मार्ग से  डायवर्ट किया गया है! जिसका उक्त मार्ग पर भी जाम की स्थिति बन रही है!
500 फीट लंबा सीमेंट कंक्रीट से बनाया गया उक्त मार्ग लोगों और वाहन चालकों के लिए मुसीबत बन गया हे! उक्त निर्माण कार्य
उस समय शुरू किया गया था जिस समय संदलपुर में मालवा के प्रसिद्ध संत पंडित कमल किशोर जी नागर की भागवत कथा शुरू हुई थी! उस दौरान भी वाहन चालक और राहगीरों के लिए काफी परेशानी और मुसीबत इसी मार्ग के निर्माण के दौरान हुई थी!
इसी बीच अमावस्या पर्व होने के कारण उक्त मार्ग पर वाहनों का अधिक दबाव बन गया! उसके बावजूद भी उक्त मार्ग को चालू नहीं किया गया जो वाहन चालक और राहगीरों के लिए मुसीबत तो बना हे! साथ ही पुलिस को बार-बार लग रहे जाम से निपटने के लिए काफी मेहनत करना पड़ रहा है !क्योंकि उक्त मार्ग रहवासी क्षेत्र के होने के कारण उक्त मार्ग के दोनों ओर दुकानों एवं रहवासी मकान के कारण लोगों एवं दुकानदार और ग्राहकों का आना-जाना भी बना रहता  है! ऐसी स्थिति में जरा सी चूक  किसी  बड़ी  दुर्घटना का कारण भी बन सकती है !लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के गृह जिले में जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही और मनमानी का खामियाजा वाहन चालक और राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है !
यदि उक्त मार्ग से आवागमन चालू नहीं किया गया तो देर रात के बाद मार्ग पर अत्यधिक दबाव बढ़ जाएगा जो वाहन चालक राहगीरों के साथ नेमावर स्नान के लिए पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए भी परेशानी का सबक होगा जिम्मेदार विभाग के जिम्मेदार अधिकारी आखिर क्यों लापरवाह बने हुए हैं क्या उन्हें किसी हादसे का इंतजार है?


Post A Comment:

0 comments: