खण्डवा,~किन्नर की हत्या कर ढाई साल से फरार आरोपी गिरफ्तार~~

खण्डवा , संजय चौबे ~~


किन्नर की हत्या कर ढाई साल से फरार चल रहे आरोपी को आखिरकार पुलिस ने दबोचने में सफलता पाई है ।    दिनांक 03.05.15 को किन्नर रेखाबाई गुरू निवासी फकीर मोहल्ला खण्डवा ने थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराई की उनका साथी किन्नर सुषमाबाई निवासी सिंगोट विगत डेढ माह से गायब है तथा उसका मोबाईल भी बंद है जिस पर सिंगोट स्थित मकान पर रेखाबाई एवं मकान मालिक ब्रजलाल के साथ जाकर देखने पर मकान पर बाहर से ताला लगा होकर कमरें से बदूब आ रही थी। संदेह होने पर किन्नर रेखाबाई एवं मकान मालिक ब्रजलाल द्वारा थाना पिपलौद पर सूचना दी गई जिस पर पुलिस द्वारा ताला तोडकर देखा तो किन्नर सुषमाबाई की लाश क्षत विक्षत अवस्था में पलंग पर पडी थी तथा मृतिका के गले में कपडे से फंदा कसा था एवं खुला वायर अंगूठ में लपेटकर प्लग में लगा था व कमरे का सामान पेटी, अटैची खुली थी। उक्त घटना पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना पिपलौद पर अपराध क्रमांक 115/15 धारा 302, 201, 460 भादवि का कायम कर आरोपी हीरालाल पिता गिलदार भीलाला निवासी ग्राम लछोरा को गिरफ्तार कर अनुसंधान पूर्ण कर चालान न्यायालय पेश किया गया था।

            प्रकरण में न्यायालय विचारण के दौरान सभी साक्ष्य समाप्त होने तथा प्रकरण निर्णय की स्थिति में आने पर दि. 11.11.16 को आरोपी हीरालाल पिता गिलदार भिलाला फरार हो गया। आरोपी के फरार होने से मान. न्यायालय द्वारा पहले आरोपी के गिरफ्तारी वारंट जारी किये गये आरोपी की गिरफ्तारी न होने से दि. 24.8.17 को आरोपी का गिरफ्तारी हेतु स्थाई वारंट जारी किया गया था।

            चुंकि प्रकरण का आरोपी काफी समय से फरार था अतः आरोपी की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक खण्डवा द्वारा 10 हजार रुपये ईनाम की उद्घोषणा की गयी थी। फरार आरोपी हीरालाल की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक खण्डवा सिद्धार्थ बहुगुणा द्वारा विशेष निर्देश प्रदान किये गये थे।


            शुक्रवार  12.4.19 को पुलिस अधीक्षक खण्डवा  सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देशानुसार कार्यवाही करते हुये विगत ढाई वर्षों से फरार आरोपी को उनि. अमित कोरी तत्का. थाना प्रभारी पिपलोद हाल- थाना कोतवाली खंडवा एवं आरक्षक क्रं. 527 राजेश माण्डवी द्वारा आरोपी की तलाश कर आरोपी हीरालाल पिता गिलदार भीलाला निवासी ग्राम लछोरा को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया ।


Post A Comment:

0 comments: