*बुरहानपुर~ जद्दा निवासी एनआरआई का बुरहानपुर आगमन*~~
       
बुरहानपुर (मेहलक़ा अंसारी ) 


जद्दा में निवासरत एनआरआई और लोकप्रिय सामाजिक शख्सियत बुरहानपुर का पुत्र शेख अब्दुल क़ादर इन दिनों बुरहानपुर प्रवास पर हैं। इस प्रतिनिधि को उन्होंने बताया कि वे 15 रमज़ान अर्थात लगभग 22 मई 2019 तक बुरहानपुर में रहने के साथ औरंगाबाद और पुणे का भी दौरा करेंगे। श्री क़ादर 1994 से 2011 तक पवित्र शहर मदीना मुनव्वरा में निवास रत थे तथा 2011 से आज तक जेद्दा में निवासरत हैं। बुरहानपुर के समस्त हाजियों की सेवा के संदर्भ में शेख अब्दुल क़ादर एक विश्वसनीय नाम है। उर्दू भाषा में कहावत है कि " ज़बाने खल्क़ को नक़्क़ारा ए खुदा समझो " इस कहावत के परिप्रेक्ष्य में हर खास व आम आदमी की ज़बान पर यह है कि ईश्वर ने बुरहानपुर के हाजियों की सेवा सत्कार के लिए क़ादर भाई को जेद्दा में निवासरत किया है। सेवा का जज़्बा यह है कि हज के दौरान अपनी धर्मपत्नि के साथ कई बार बुरहानपुर के हाजियों से प्रत्यक्ष रूप से भेंट के लिए आते हैं और अपने हमवतन हाजियों की सेवा करके प्रसन्न होते हैं। इसके अतिरिक्त कई बार उमरा पर जाने वाले श्रृध्दालूओं को धोका धड़ी या परेशानी की स्थिति में उन्हें वतन भिजवाने के काम में भी समुचित सहयोग करते हैं। विगत दो दशक में हज और उमरा यात्रा पर जाने वाले श्रृध्दालूओं की संख्या में जो वृध्दि हुई है उसका श्रेय भी QTS के क़ादर भाई को ही जाता है। शैक्षणिक, सामाजिक और धार्मिक क्षेत्र में आप की सेवा एक संगे मेल की हैसियत रखती है।


Post A Comment:

0 comments: