खंडवा/बीड ~ मामला बीड स्थिति कमल टेंडिग कंपनी का~~

सुरक्षा के संसाधनों में भारी कमी रहतें  जान गवाह बैठा नोजवान युवक ~~

अग्निकांड में गंभीर रूप से घायल मजदूर की उपचार के दौरान  मौत~~

 बीड जिनींग फैक्ट्री में आगजनी मामले की पुलिस जांच कर करेंगी प्रकरण दर्ज ~~

रवि  सलुजा खंडवा/बीड ~~


बीड मे स्थित कमल जिनिंग फैक्ट्री में पिछले दिनों  अचानक आग लग गई तत्काल ही मौके पर  पहुचकर पुलिस व मौजूद लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया परंतु आग अपना विकराल रूप धारण कर चुकी थी ! यह आगजनी का हादसा तीन अप्रैल को कमल जिनिंग फैक्ट्री बीड में हुआ !  पर विडंबना है कि जिसमे गभीर रुप से झुलसा नौजवान जयपाल पिता रामलाल नाहल 30 साल  चिचली की शुकवार चोइथराम अस्पताल इंदौर में इलाज के दौरान मृत्यु हो गई ! हालाकि बीड मुदी पुलिस मामले की सूक्ष्म जांच कर रही है । अागजनी के हुए घटनाक्रम में कार्यरत गरीब मजदूर की मौत हो जाने के बाद उसके परिवार का जीवन यापन कैसा होगा , यह एक बड़ी चुनौती है, तो उसे क्या आर्थिक सहायता जिनिग फैक्ट्री के मालिक द्वारा दी जाएगी ,  यह सोचनीय प्रश्न  है, और दुर्घटना किन लापरवाही से घटित हुई है   जो कि यह जांच योग्य है , हालांकि पूरा मामला अब जांच के घेरे में होकर पुलिस  का कहना है कि पूरे मामले की जांच पडताल की जा रही है! 


विदित हो कि कमल जिनिंग फैक्ट्री का कपास भरा हुआ था और इस अग्निकांड से लाखों रुपए का क्षति होने का अनुमान लगाया जा रहा है। कमल ट्रेडिंग  जिनिग मे आगजनी मे गांव के नागरिकों व पुलिस ने भी आग बुझाने का बहुत प्रयास किया काफी मशक्कत से आग पर पाया गया था!  आग लगने के कारण फैक्ट्री में काम कर रहे  एक श्रमिक  गंभीर रूप से आग में झुलस गया है  जिसकी  उपचार के दौरान इंदौर में मौत हो गई है ! पर बताते हैं धटना के समय आग मे झुलसे व्यक्ति  कि जवाबदार ने  भी कोई फिक्र नहीं की , जिसे धटना के समय गंभीर धायल  को मोटर साईकिल से ही मुंदी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया ! वह बाद मे खंडवा व इदौर रेफर किया गया है!  वही बताते है कि  नियम मुताबिक कपास जिनिग के इतने बड़े  करोड़ो के व्यापार में स्वयं अपने संसाधनों का ना होना सोचनीय प्रश्न है वैसे तो हमेशा  फायर ब्रिगेड, पानी टकी, बालु रेत , अग्निशामक यंत्र , मेडिकल सुविधा,  एंबुलेंस पाइपलाइन , जैकेट ,मार्क्स, चश्मा, हैंड ग्लोब्स, सुरक्षा के सभी संसाधन मौजूद होना चाहिए ! पर नहीं थे ..  विडवना है कि जो  मौके पर  नजर  नही आते  है, ग्रामीणों का कहना है कि बार बार  जिनिग मे आगजनी की घटना होना बेहद चिंता का विषय है , जो कमियां ,खामियां, अनदेखी लापरवाही को उजागर करती है , बार-बार जिनिग फैक्ट्री में आग लगना कहीं ना कहीं  गांव का बडा संकट है यहाँ आसपास बसाहट एरिया आसपास रहने वाले ग्रामीणों की जान से भी बड़ा खिलवाड़ होकर चिता का विषय है ! जो कि पुलिस के लिए भी जांच का विषय है, क्योंकि अब आवश्यक होकर जिम्मे दारो को कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है !  


जिनिग मे  प्रतिदिन बड़ी संख्या में काम करते मजदुर :-
इनका कहना ----
बीड जिनिंग में हुई आगजनी की घटना  मे  गंभीर रूप से  झुलसे  व्यक्ति की इंदौर उपचार के  दौरान मौत हो गई पूरे मामले की जांच चल रही है जांच होने के बाद ही स्पष्ट रूप से बतायेगे  लापरवाही तो थी फैक्ट्री एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी .

 शिवा निमाना  टी आई  थाना मुंदी 


Post A Comment:

1 comments:

  1. Kamal jinig frctory me Jo aag lagne Karan nojvan apni Jaan gava baitha us se to yahi sabit hota hai ki com.ke pass apne khud ke suraksha intjam nahithe is ke chalte nojvan ki not hui Jamal jinig com.ko Uske parivar ki aarthik sthiti ko dekhate huye Uske parivar ki unki Jaise bhi ho madad Karni chahiye na ki Uske parivar se muh midh Lena Chahiye

    ReplyDelete