सरदारपुर/धार~ सिविल न्यायालय के नवनिर्मित न्यायालय भवन एवं ए.डी.आर. सेन्टर का लोकार्पण समारोह सम्पन्न~~

न्यायमूर्ति मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय खण्डपीठ इन्दौर एवं पोर्टफोलियो न्यायाधीश धार श्री शुक्ला रहे मुख्य अतिथि~~

सरदारपुर/धार (शैलेन्द्र पँवार) 




रदारपुर तहसील मुख्यालय पर सिविल न्यायालय के नव निर्मित न्यायालय भवन एवं ए.डी.आर. सेन्टर का लोकार्पण समारोह का न्यायमूर्ति मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय खण्डपीठ इन्दौर एवं पोर्टफोलियो न्यायाधीश धार श्री शैलेन्द्र शुक्ला ने शनिवार को मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर विधिवत् शुभारंभ किया। इस समारोह की अध्यक्षता जिला एवं सत्र न्यायाधीश धार श्रीमती सरिता सिंह ने की। 

 इस समारोह के मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति श्री शुक्ला ने उपस्थित जनमानस को नव निर्मित अच्छे एवं सुन्दर भवन तथा नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नवीन भवन से सभी को एक नई एवं सकारात्मक ऊर्जा के साथ कार्य करने की प्रेरणा मिलेगी। जिससे पक्षकारों को न्याय प्रदान करने में सहजता और सुविधा उपलब्ध होगी। न्यायमूर्ति श्री शुक्ला ने नवनिर्मित भवन का अवलोकन करने के उपरांत भवन की परिकल्पना और संकल्पना की प्रशंसा की। श्री शुक्ला ने नवनिर्मित ए.डी.आर. भवन के संबंध में कहा कि हमे न्याय प्रक्रिया के दौरान सौहार्दपूर्ण वातावरण का निर्माण करते हुए मध्यस्थता जैसी परिकल्पनाओं का लाभ लेकर न्यायिक प्रक्रिया की जटिलता से बचना होगा। श्री शुक्ला ने अधिक से अधिक अधिवक्तागण को प्रशिक्षित मीडिएटर बनने के लिए प्रोत्साहित किया।
इस समारोह की अध्यक्षता कर रही जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती सिंह ने अपने उद्बोधन में दोनों नव निर्मित भवनों के निर्माण के संबंध में विस्तार से प्रकाश डालते हुए बताया कि उक्त भवन का निर्माण 11 सितम्बर 2014 को प्रारंभ होकर यह 20 मार्च 2019 को पूर्ण होकर लगभग 5 करोड़ 58 लाख रूपये की लागत से भवन बनकर तैयार हुआ है। इस भवन में बेसमेंट, तल मंजिल एवं प्रथम मंजिल का होकर जिसमें 5 न्यायालय कक्ष और विभिन्न

 अनुभाग की सुविधाएं रहेंगी। यह नवीन भवन वर्तमान की आवश्यकताओं के अनुरूप नवीनतम संसाधनों से युक्त है, जो अधिवक्ताओं, पक्षकारों में सकारात्मकता और ऊर्जा का भाव का संचार करेगा। पक्षकारों में भी नवीन व्यवस्था के प्रति नया प्रादुर्भाव होगा। इस नवीन भवन में पक्षकारों एवं अधिवक्ताओं को भी बेहतर माहौल मिलेगा। सरदारपुर की न्यायिक व्यवस्था के लिए दोनों भवनों को मील का पत्थर साबित बताते हुए यह अपेक्षा भी की है कि भवन के अनुरक्षण, स्वच्छता और पर्यावरणीय कार्यो में परस्पर समन्वय से कार्य करते हुए भवन के निर्माण के उद्देश्य को सफल बनाऐंगे। ए.डी.आर. भवन के संबंध में उन्होने बताया कि ‘‘न्याय सबके लिए’’ इस परिकल्पना की मूल भावना को साकार करने के लिए लगभग 14 लाख रूपये की लागत से नवनिर्मित ए.डी.आर. सेन्टर के निर्माण का कार्य 9 दिसम्बर 2016 को प्रारंभ हुआ और इसका निर्माण कार्य 31 जुलाई 2017 को पूर्ण हुआ है। इस मीडिएशन भवन में पक्षकारगण अपने मामले को सौहार्दपूर्ण वातावरण में निराकृत कराने के लिए आपसी चर्चा और समन्वय कर हल कर सकेंगे। जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती सिंह ने इस अवसर पर समस्त विभागों के अधिकारियों और निर्माण एजेंसी के अधिकारियों-कर्मचारियों को भी नव नव निर्मित भवनों के लिए धन्यवाद प्रेषित किया। 

 इस समारोह में उपस्थित जिला न्यायाधीश (सतर्कता) श्री राजेश गुप्ता ने अपने उद्बोधन में इस क्षण को ऐतिहासिक एवं गौरवमय बताते हुए सरदारपुर को स्वयं की कर्मभूमि होना बताया।
कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने इस लोकार्पण समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस नवीन भवन का निर्माण होने से न्यायाधीश, अभिभाषकगण और पक्षकारों को बेहतर माहौल मिलेगा और पक्षकारों को भी परेशानी का सामना नही करना पड़ेगा। नये भवन में सुविधाओं के लिए सभी स्थान नियत किए गए है। 

 पुलिस अधीक्षक श्री बीरेन्द्र कुमार सिंह ने अपने विचार प्रकर करते हुए कहा कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश धार द्वारा भी समय-समय पर जिला स्तरीय मानीटरिंग सेल की मीटिंग में भी उत्पन्न समस्या को दूर करने के आपसी चर्चा के माध्यम से विशेष प्रयास किए जाते रहे है और उनके प्रयासों से इस नवीन भवन के निर्माण का कार्य शीघ्र पूर्ण हो पाया है। इस भवन के निर्मित होने से पक्षकारगण, अधिवक्तागण को भी कार्य करने में और अधिक सुविधा होगी। साथ ही अच्छे वातावरण में कार्य करने की क्षमता में वृद्धि होगी

। अपराध नियंत्रण में न्यायिक प्रक्रिया का बुहत बड़ा योगदान रहेगा।
इस समारोह में शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय राजगढ़ की छात्राओं द्वारा संरस्वती वंदना और विद्यालय के बच्चों द्वारा देशभक्ति पर आधारित गीत की प्रस्तुति दी गई। कबीर पंथी गु्रप इन्दौर द्वारा भजन की प्रस्तुति दी गई। समस्त न्यायाधीशगण की और से मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह भेंट किए गए और तहसील अभिभाषक संघ की और से मंचासीन अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट किए गए। 

इस समारोह में जिला एवं सत्र न्यायाधीश बड़वानी श्री रामेश्वर कोठे, धार जिले के समस्त न्यायाधीशगण, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री राजाराम बडोदिया, समस्त अधिवक्तागण, लोक निर्माण विभाग, पुलिस विभाग, राजस्व विभाग के अधिकारीगण-कर्मचारीगण उपस्थित थे। इस समारोह के अंत में प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश तथा प्रभारी अधिकारी नजारत अनुभाग सरदारपुर श्री ए.के. जैन ने आभार व्यक्त किया। समारोह का सफल संचालन अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुक्षी श्री संजय कुमार गुप्ता ने किया।


Post A Comment:

0 comments: