देवास~ नेमावर के युवक की नर्मदा में डूबने से मौत, पूरे गांव में शोक की लहर ~~

युवक की मौत के बाद नर्मदा घाट पर सुरक्षा व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह लगा~

अनिल उपाध्याय
देवास /ब्यूरो ~~


मंगलवार शाम को नेमावर मे नर्मदा नदी के सिद्धनाथ घाट  5 बजे के दरमियान नहाने गए युवक की पानी मे डूबने से मौत हो गई,सूचना के बाद पुलिस के आला अधिकारी घाट पर पहुंचे स्थानीय मछुआरों की सहायता से देर रात तक नदी में जाल फेंक कर मृतक के शव को ढूंढने का अथक प्रयास किया लेकिन देर रात तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी,

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नेमावर के 18 वर्षीय युवक राहुल पिता सुभाष तिवारी मंगलवार शाम को उसकी बुआ के लड़के संदीप निवासी कन्नौद के साथ सिद्धनाथ घाट पर नहाने गया था, संदीप नाव के साइड मे नहा रहा था, जव की राहूल नाव पर बैठकरै फोटो शूट कर रहा था
उसके वाद राहूल ने संदीप से कहा की मे भी नहा लेता हु, ओर उसने कपडे उतार कर वह भी नहाने लगा ओर थोडी दूर तैरता हुआ गया ओर वापस नाव के पास पहुचा लेकिन जब वह पानी से नही निकला तो संदीप घबरा गया ओर उसने घाट पर मौजूद लोगो एंव परिवार को इसकी सूचना दी सूचना पर घर के लोग बदहवास होकर रोते विल्कते सिध्दनाथ घाट की ओर दोड लगा दी, सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची स्थानी केवट और मछुआरों की मदद से राहुल के शव को पानी में  तलाशने का प्रयास किया लेकिन अंधेरा होने के कारण सफलता हाथ नहीं लगी सुबह फिर मृतक की तलाश की गई तब कहीं जाकर उसका शव बरामद किया गया !नर्मदा नदी में स्नान के दौरान युवक की डूबने से मौत होने के बाद प्रशासन की नर्मदा घाट पर सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े हो गए, उधर 1 सप्ताह पूर्व ही नर्मदा नदी में हरदा के एक युवक की पानी मे डूबने से मौत हो गई थी, उसके बाद भी प्रशासन ने नर्मदा घाट पर सुरक्षा के लिए कोई ऐतिहात कदम नहीं उठाए, यह उसी बात की परिणिती रही की नेमावर के एक होनहार युवक की नर्मदा नदी में स्नान को दोराण डूबने से मौत हो गई अगर प्रशासन घाटो पर सुरक्षा के तमाम इंतजाम किये होते तो इस प्रकार के हादसों को टाला जा सकता था" लेकिन प्रशासन तीज त्योहारों पर नर्मदा एवं घाटों पर सुरक्षा व्यवस्था कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री समझ लेता है बाकी समय घाटो को खुला छोड़ देता है, शव को ढूंढने में स्थानीय मछुआरों एवं गोताखोरों ने 14 घंटे से अधिक सतत प्रयास किया तब कहीं जाकर नर्मदा से शव निकाल पाए , घटना के बाद से ही पूरे नेमावर नगर में शोक व्याप्त है लोगों का कहना है कि यदि नेमावर का नर्मदा मे तैरने वाला युवक  नर्मदा में डूबकर मर जाएगा तो यहां पर यहां पर स्नान के लिए पहुंचने वाले लोगों का क्या होगा यह लोगो को लिए गंभीर सोचनीय विषय
हो चुका

गोताखोरों को नर्मदा तट पर तैनात करने की मांग ,
-----------------
नर्मदा तट स्थानी गोताखोर मुकेश केवट,जियालाल केवट,  रवि केवट ,मनोज केवट, मंगल केवट ,कुंदन केवट, नरेंद्र सैनी, हरी केवट,  अनु केवट ,दिलेर केवट, हरी केवट ,रमेश केवट ,मोहित केवट ,सतीश केवट
ने लगातार 14 घंटे तक सर्चिंग कर युवक के शव को बड़ी मुश्किल से ढूंढ कर निकाला, साहसी युवकों पर घाटो पर  तैनात करने की मांग प्रशासन से ग्रामीणों ने की है, ताकि युवकों को रोजगार मिल जाए और प्रशासन की सुरक्षा बढ़ जाए,


आला अधिकारी एवं नगर के
लोग पहुंचे सिध्दनाथ घाट,
-----------
घटना के बाद से ही पूरे समय  नेमावर के नर्मदा घाट पर  एसडीओपी निर्भय सिंह अलावा नेमावर थाना प्रभारी जयवंत सिंह काकोडिया खातेगांव थाना प्रभारी सज्जन सिंह मुकाती सहित नेमावर थाने का पुलिस बल एवं नगर के लोग देर रात तक मृतक को ढुढने की तलाश मैं जुटे रहे। जब तक शव बरामद नहीं हुआ तब तक आला अधिकारी एवं कर्मचारी के साथ नागरिक भी मौजूद रहे,

होनहार था मृतक राहुल
------------------
नेमावर मैं मोबाइल वर्क शाप की दुकान का संचालन करने वाला
युवक राहूल होनहार था और पूरे गांव में उसके चाहने वालों की तादाद बहुत ज्यादा थी घटना के बाद उसकी मौत खबर से पूरे गांव में शोक व्याप्त है,

घटना बहुत दुखद:पुरे
गांव मे शोक की लहर
-----------------
नेमावर के किसी व्यक्ति की नर्मदा नदी में डूब कर मरने की पहली घटना है लोगों का कहना है कि नर्मदा में डूब कर कई लोगों की मौत हो गई लेकिन आज तक नेमावर का कोई भी व्यक्ति नर्मदा में नहीं डूबा यह पहली घटना है
घटना बहुत दुखत:हे घटना के बाद से ही पुरे नेमावर मे शोक व्याप्त हे!


स्मरण रहे की 12 दिन पूर्व भी हरदा के एक युवक की नर्मदा नदी मैं नहाने के दौरान डुबने से मौत हो गई थी
-----------------
नर्मदा नदी के सिध्दनाथ घाट पर नहाने आए युवक की 12 अप्रैल को पानी मैं डुबने से मौत हो गई थी। युवक अपने मित्र के साथ नर्मदा नदी मैं नहाने आया था। इसी दौरान 12 अप्रैल शुक्रवार दोपहर 12 बजे के लगभग नरेन्द्र वामने 16 वर्ष की नर्मदा नदी मैं नहाते समय डुबने से मौत हो गई थी। बताया जा रहा हैं की मृतक राहुल तिवारी के शव को भी पानी मैं से वही से निकाला गया जहाँ से 12 दिन पहले हरदा निवासी का शव निकाला गया था।


Post A Comment:

0 comments: