मुरैना~~108 जननी एक्सप्रेस गाड़ियों का जिला अधिकारी ने किया औचक निरीक्षण,मिली कई खामियां~~

मुरैना~~(चम्बल संभाग ब्यूरो चीफ संजय दीक्षित)       


मुरैना~~जिला में 108 जननी पर कॉल करते हुए  हम जिस एंबुलेंस को बुलाते हैं, वह मौत का पैगाम हो सकती हैं। इसका खुलासा गुरुवार को जिला अधिकारी के द्वारा कराई गई औचक निरीक्षण में हुआ।जिला अधिकारी गिर्राज तोमर जिला अस्पताल में पहुंचे  और अचानक वहां खड़ी एक 108 जननी एक्सप्रेस गाड़ियों की जांच की तो मरीज के जीवन से खिलवाड़ होता हुआ दिखाई दिया।गाड़ी के अंदर आवश्यक सुख सुविधा जैसी कोई भी चीज नहीं मिली। इंफेक्शन कंट्रोल, पोर्टेबल ऑक्सीजन की सुविधा तथा आवश्यक दवाओं की उपलब्धता के हिसाब से भी यह एंबुलेंस पूरी तरह से फिसड्डी साबित हुई हैं। अस्पताल में गुरुवार की दोपहर गिर्राज तोमर जिला अधिकारी ने 108 जननी एक्सप्रेस का औचक निरीक्षण किया ।जिसमें क्षमता से अधिक व्यक्ति बैठे हुए थे। गाड़ी में डिलेवरी महिला और उसके साथ सहोगनी को 108 जननी में ले जाया जाता हैं।लेकिन गिर्राज तोमर ने जननी एक्सप्रेस की गाड़ी नंबर mp06DA0318 का औचिक निरीक्षण किया तो गर्भवती महिला के साथ करीब 6 लोग बैठे हुए थे।इसके बाद 108 जननी एक्सप्रेस की गाड़ी नंबर mp06DA0321 को चेक किया गया तो उसमें ऑक्सिजन सिलेंडर का माउस ठीक तरह से कार्य नही कर रहा था ।गाड़ी के सॉकर और टायर पूरी तरह से खत्म हो चुके हैं।फर्स्ट एड के बॉक्स के डिब्बे में भी आयल के पाउच भरे हुए थे।गाड़ी भी करीब 3 तीन लाख से ऊपर चल चुकी हैं।प्रसूताओं को लाने ले जाने वाली गाडियाँ तो भगवान भरोसे चल रही हैं।गाड़ियों की फिटनिस भी  समय समय पर चैक नही की जाती हैं।ऐसी गाड़ियों का सही समय पर रखरखाव न होने से मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा हैं।108 जननी  वाहन mp06DA0321के चालक संदीप मौर्य ने बताया कि गाड़ी के टायर और सॉकर बुरी तरह खत्म हो चुके हैं।गाड़ी के अंदर फर्स्ट एड के सामान की सुविधा भी उपलब्ध नही है ।गाड़ी भी करीब 3 लाख किलोमीटर से ऊपर चल चुकी हैं।जाँच के बाद जिला अधिकारी गिर्राज तोमर का कहना था कि कुछ गाड़ियों का औचक निरीक्षण किया गया है जिसमें कुछ खामियां मिली हैं उन्हें जल्दी ही दुरुस्त कर दिया जाएगा।जिससे प्रसुताओं को कोई भी परेशानी न हो।


Post A Comment:

0 comments: