बड़वानी~ पुलिस एवं पैरालीगल वालियंटर्स ने रूकवाया बाल विवाह~~


बड़वानी /बुधवार को ग्राम बोरलाय के हैदर फल्या में हो रहे बाल विवाह की सूचना आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं पैरालीगल वालियंटर्स सुश्री शैला सोलंकी को मिलने पर उन्होने पुलिस थाना अंजड़ में इस बात की सूचना दी। पुलिस थाना अंजड़ के द्वारा टीम का गठन किया गया। गठित टीम में श्री अशोक अहिरवार उपनिरीक्षक, श्री प्रशांत सुर्यवंशी प्रधान आरक्षक, श्री राकेश जी आरक्षक, पर्यवेक्षक सुश्री कविता बरडे तथा वन स्टाफ प्रशिक्षक श्रीमती सुधा शिंदे एवं पैरालीगल वालियंटर्स सुश्री शैला सोंलकी एवं सुनिल कुमरावत द्वारा दबिश देकर होने जा रहे गैर कानूनी बाल विवाह को रोका गया।
इस दौरान पैरालीगल वालियंटर्स सुश्री शैला सोलंकी एवं श्री सुनिल कुमरावत ने नाबालिग लड़की एवं उसके माता-पिता की काउंसलिंग कर समझाया कि लड़की की शादी 18 वर्ष एवं लड़के की शादी 21 वर्ष के पहले नही करना चाहिए। साथ ही उन्होने बाल विवाह अधिनियम के बारे में भी विस्तार से बताया। बताया गया कि भारतीय संविधान के अनुसार बाल विवाह करना या करवाना कानून अपराध है। उक्त काउन्सलिंग से नाबालिक लड़की व उसके परिजनों को बात समझ मे आई और होने जा रहे बाल विवाह को रोक दिया गया। यह बाल विवाह पैरालीगल वालियंटर्स शैली सोलंकी व सुनील कुमरावत एवं पुलिस टीम के सदस्यों के अतुल्य प्रयासों व मेहनत के बल पर ही रुक पाया और संबंधित नाबालिग लड़की का भविष्य अंधकार की ओर जाने से बचाया गया


Post A Comment:

0 comments: