*अलीराजपुर~श्री पवन पुत्र व्यायाम शाला समिति का गठन, 1 करोड़ की लागत से सर्व सुविधा युक्त व्यायाम शाला तथा प्रतियोगिता परिसर का निर्माण होगा*~~

✍जुबेर निज़ामी की रिपोर्ट✍
अलीराजपुर📲9993116518~~



आलीराजपुर : जिला मुख्यालय पर स्थित एक मात्र व्यायाम शाला का पुन:निर्माण भव्य पैमाने पर किये जाने का संकल्प यहाँ आयोजित एक बैठक में किया गया हैं। इस हेतु लगभग 1 करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान हैं। इस राशि मे दो मंजिला व्यायाम शाला का निर्माण होना है। जिसमें आधुनिक जिम सहित भारतीय कुश्ती अखाड़ा सहित अन्य सभी शरीर साधना कलाओं तथा अनेक खेलों के प्रशिक्षण एवं प्रतियोगिताओ के लिये परिसर उपलब्ध कराना हैं। इस हेतु जय श्री पवन पुत्र व्यायाम शाला समिती के उद्देश्यों के क्रियान्वयन हेतु वृहद समिती का  निर्माण व पंजीयन भी किया गया है, जिसमे
संरक्षक महेश पटेल, नागरसिंह चौहान, भगवती प्रसाद जायसवाल, पर्वतसिंह राठौर, संयोजक किशोर शाह, जवाहर कोठारी, बालुसेठ गुप्ता, भदु भाई पचाया, परामर्श दाता संतोष थेपड़ीया, राजेन्द्र टवली, शैलेन्द्रसिंह राठौर, पप्पु जैन, राजु उपाध्याय, मार्गदर्शक अशोक ओझा, सुरेश परिहार, मोहन भामदरे, प्रकाश सेन, नविन सेन, राधेश्याम वर्मा, अध्यक्ष विक्रम सेन, उपाध्यक्ष सुनिल डोडवे, श्याम मेलाना, दिलीप पटेल, सचिन गुप्ता महासचिव आशुतोष पंचोली, सचिव प्रितेश श्राफ, राकेश सेन, आनंद सोलंकी, जतिन सोलंकी, शेरा, राजु बामनिया, शैलेन्द्र राठौड़, संयुक्त सचिव निखिल गोस्वामी, रिंकु जोशी, मनोज नाथ, शंकर रावत, गजेन्द्र सोलंकी, अभिषेक गेहलोत, गोविंद राठौड़, कोषाध्यक्ष केशवराव चव्हाण, मोन्टु शाह कानुनी सलाहकार इस
एड. योगेन्द्र वाणी, श्रीकांत माहेश्वरी, कमलेश वाणी, व्यव्स्थापक मनोज विश्वकर्मा, मनोज किराड़, विष्णु चौधरी, मुख्य प्रशिक्षक महेश विश्वकर्मा, प्रशिक्षक दोलत चौधरी, लोकेन्द्र सोलंकी, मुकेश बारेला, जितेन्द्र विश्वकर्मा, प्रवक्ता हितेन्द्र शर्मा, आदित्य कोठारी, मिडिया प्रभारी गिरिराज मोदी, आशिष अगाल, विशिष्ट कार्यकारीणी सदस्य अमन चौहान, सुभाष वर्मा, राजदीप बामनीया, पिंटु सेन, लक्ष्मण वाघेला, शेरा, विशाल सेन, गिरिश भटनागर हैं।
यह समिती जय श्री पवन पुत्र व्यायाम शाला के इन उद्देश्य की पूर्ति हेतु अपना योगदान प्रदान करेगी। यथा 1. स्वास्थ्य  के प्रति जन जन को जागरूक करना तथा व्यायाम और योग के प्रति लोगो में जागरूकता लाना।
2. राष्ट्रीय एवं अतंर्राष्ट्रीय खेलो के प्रति लोगो में जागरूकता लाना तथा क्षेत्रीय, राष्ट्रीय एवं अतंर्राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न खेलकूद गतिविधियो का संचालन एवं व्यवस्था करना।
3. हर आयु वर्ग के बच्चों बच्चियों को व्यायाम सिखाना उनकी रूचि अनुसार खेल प्रतिभा को निखारने हेतु प्रशिक्षण उपलब्ध कराना।
4. बच्चो को मिट्टी एवं मेट पर कुश्ती विद्या में पारंगत करना तथा इस विद्या को प्रसिद्धि दिलाने हेतु प्रयास करना।
5. चल समारोह में अखाड़ा निकालना।
6. आमजन को अनुशासन सिखाना तथा बच्चो को मलखम, पटा, बनेटी घुमाना सिखाना आदि के लिये कार्य करना हैं।
यह व्यायाम शाला बच्चों के लिये नीव के रूप में अपना योगदान प्रदान करेगी, इसके निर्माण व संचालन से वर्तमान तथा भावी पीढ़ी में मोबाइल तथा अन्य व्यसनों के लिये दिये जाने वाले समय को सदुपयोग के लिये सुव्यवस्थित सुविधाओं से युक्त रुचिकर स्थान उपलब्धता कराने के लिये प्रतिबद्ध हैं। उपरोक्त जानकारी समिती के महासचिव आशुतोष पंचोली ने एक प्रेस विज्ञप्ति में दी हैं।


Post A Comment:

0 comments: