ड़वानी~~ट्विंकल सहित उज्जैन में हुई घटना के विरोध में सौपा ज्ञापन ~~


बड़वानी/ विश्व हिन्दू परिषद मातृशक्ति, दुर्गा वाहिनी द्वारा गृहमंत्री भारत सरकार और मध्यप्रदेश राज्य शासन के गृहमंत्री के नाम स्थानीय कलेक्टर कार्यालय में नायब तहसीलदार को अलीगढ़ में हुई बीभत्स ओर मानवता को शर्मसार करदेने वाली घटना के विरोध में ज्ञापन सौपा।जिस देश में कन्याओं को देवी का दर्जा दिया जाता है उन्हें पुजा जाता है, आज हैवानियत ने इतनी हदें पार कर दी है कि आये दिन गांव हो या शहर मात्र हवस के नशे में चूर कुछ ददि उन्ही देवी समाज मासूम बच्चीसे हवस का शिकार बनाते हुए मौत के घाट उतार रहे है। और चिंता इस बात की है।
को बेरहमी व ददगी कि इसी देश का कानून जहां कई बेटीयो ने बलीदान दे दिया वहां इन दरिन्दो के लिये
कोई ऐसा कानून नही जिससे दरिन्दों को सबक सिखाया जा सके।

पूर्व में लगातार बढ़ती जा रही दरिंदगी व बलात्कार की घटनाओं के बाद अब अलीगढ़ में एक ढाई वर्ष की मासुम बच्ची ट्वींकल शर्मा के साथ दरिंदे जाहिद, असलम व उसके साथी ले न सिर्फ हवस का शिकार बनाया बल्कि हेवानियत की सारी हदे पार
करते हुए उस मासूम बच्ची की आंखे निकाल कर उसके आंतरिक अंगो को क्षत विक्षीप्त
कर हमेशा के लिये मौत की लिंद सुला दिया।
इसी प्रकार दिनांक 07/06/2019 को पुनः याम आवर तह, आगर जिला , आगर मालवा म.प्र. की एक मासूम गरीब परिवार की बच्ची को उज्जैन मे सोते हुवे से ले जाकर कुछ अज्ञात दरिंदो ने हेवानियत का शिकार बना कर बुरी तरह से ईंट/पत्थर से कुचल कर मार कर नदी में फेंक दिया परन्तु प्रशासन मोन साधे वेठा हुआ है। शायद प्रशासन भी किसी बड़ी अनहोनी के इंतजार में ए.सी. कमरो मे बैठा  है।
उपरोक्त घटनाओं के अतिरिक्त भी अनेक घटनाए है, जिनमें कई मासूम बच्चीयो के साथ व महिलाओं को कुछ विशेष वर्ग समूदाय के दरिदो द्वारा हवस का शिकार बनाया गया है और इन अत्याचारों के कारण आज देश की कई बेटीयों को आत्म हत्या के लिये

विवश होना पड़ रहा है। तथा अपने घर से बाहर अकेली नहीं निकल पाती है।
अतः आपको आज इस ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराते है कि उक्त घटनाओ। से पूरे हिन्दू समाज में तिव्र आक्रोश है तथा वर्तमान में हो रही दरिंदगी पर रोक लगाने व दरिंदो को तुंरत बिना कोई औपचारिकता निभाये फाँसी की सजा दिलवारों। यदि उक्त घटनाओं पर कार्यवाही नहीं की जाती हैं तो मातृ शक्ति व दूर्गा वाहिनी द्वारा पुरे समाज को साथ लेकर उग्र आंदोलन करने पर विवश होना पड़ेगा। इस दौरान मातृशक्ति संयोजिका संगीता लोह, करुणा तोमर,सिद्धेश्वरी भारद्वाज, रेखा जोशी,ज्योति मकवाना,संगीता जोशी,लक्ष्मी मोरे,अंजली चौहान, दुर्गा वाहिनी संयोजिका भवानी मुजाल्दे सहित विहिप मातृशक्ति, दुर्गा वाहिनी कार्यकर्ता उपस्थित थी।


Post A Comment:

0 comments: