मुरैना~~पुलिसवाले मृत युवक को घसीटते हुए पीएम हाउस में ले गए।

मुरैना~~(चम्बल संभाग ब्यूरो चीफ संजय दीक्षित)


मुरैना~~ देश भर में पुलिस व चिकित्सा प्रबंधन व्दारा मानव शवों के प्रति मानवीय व्यवहार न किये जाने के मामले समय समय पर प्रकाश में आते रहते है । अभी मुरैना में भी पुलिस का अमानवीय चेहरा उस समय सामने आया जब  एक गोली लगने से दलित युवक की मौत हो गयी । उसके शव का पीएम कराने के लिये पुलिस व्दारा शव को  पुलिस न सिर्फ घसीटते हुए शव वाहन से पीएम हाउस तक ले गई बल्कि विरोध करने पर उसके परिजनों को जमकर पीटा है । पुलिस ने मृतक युवक के परिजनों पर बर्बरतापूर्वक लाठी और डंडे बरसाए । जौरा थाने में जब्त लाइसेंसी बंदूक लेने आए एक व्यक्ति से  अचानक थाने में गोली चल गयी जिससे राहगीर दलित युवक को गोली जा लगी ।गंभीर हालत में युवक को आनन फानन में परिजन और पुलिस अस्पताल ले गए लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया । जब मृतक युवक को पीएम हाउस लाया गया तो परिजनों ने विरोध कर जौरा में पीएम कराने की बात कही । परिजन मुरैना में पीएम कराने के लिए राजी नहीं हुए तो पुलिस शव को वाहन से घसीटकर पीएम हाउस तक ले गई। मृतक युवक के परिजनों ने जब पुलिस की इस करतूत का विरोध किया तो उनको भी लाठी और डंडों से पीटा गया।मामला बढ़ने लगा तो एसपी असित यादव ने पीएम हाउस पर अतिरिक्त पुलिस बल भेजकर मामले को कंट्रोल किया। मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएम हाउस में रख दिया। पुलिस के अनुसार आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच की जा रही है ।


Post A Comment:

0 comments: