बड़वानी~1957 से 2015 तक के सैकड़ों पूर्व छात्रों ने देखा कॉलेज~~

मुख्य "एलुमनी मीट" होगी 29 जुलाई को~~



बड़वानी/ शहीद भीमा नायक कॉलेज में आगामी अगस्त माह में नेक मूल्यांकन को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश शासन उच्च शिक्षा विभाग व राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के अंतर्गत  पूर्व छात्रों के सम्मेलन के दूसरे सोपान के आयोजन में 1957 से 2015 तक के सैकड़ों छात्र शामिल हुए।
सम्मेलन में आने के लिए  पूर्व छात्रों को समाचार पत्रों व सोसल मीडिया के माध्यम से सूचना दी गयी थी। प्राचार्य डॉ आर एन शुक्ला व डॉ दिनेश वर्मा के मार्गदर्शन में आयोजित इस कार्यक्रम में पूर्व वरिष्ठ छात्रों का महाविद्यालय परिवार ने तिलक लगाकर पुष्प गुच्छ भेट कर स्वागत किया। 85 से 60 आयु वर्ग  के करीब 40 पूर्व छात्र भी अपने पुराने कॉलेज को नये कलेवर में देखने पहुँचे। आपस मे गले मिलकर कॉलेज के पुराने दिनों को खूब याद किया।वर्तमान सुविधाओं को देखकर शासन,प्रशासन, प्राचार्य व प्राध्यापकों को बधाई दी। 
          कॉलेज में अध्ययनरत वर्तमान छात्रों के व्यक्तित्व विकास, संस्कार देने व कौशल विकास को लेकर भी सकारात्मक मार्गदर्शन देने की बात पूर्व छात्रों ने कही।
पूर्व छात्रों ने महाविद्यालय के अपर हाल में उपस्थित होकर अपनी जानकारी व सहपाठियों की जानकारी पंजीयन पत्र में दर्ज की। 1957 से 1975 के मध्य इस कॉलेज में अध्ययन करने वाले 100 से अधिक पूर्व छात्रों ने "महाविद्यालय के विकास में पूर्व छात्रों की भूमिका" पर अपने अमूल्य विचार रखें।
किसी ने अपने शिक्षकों की तारीफ की तो किसी ने उस जमाने के विद्यार्थियों के अनुशासन की बात कही। बड़वानी कॉलेज ने अभी तक हजारों युवाओं को अफसर बनाया है, उन्हें  अब इस 8000 से अधिक छात्रों वाले कॉलेज के विकास के लिए आकर अपने सुझाव देने की बात भी पूर्व छात्रों ने कही ।समाजसेवी सुशील निगम ने महाविद्यालय प्रशासन से रोडमैप तैयार कर पूर्व छात्रों के सामने रखने की बात कही जिससे पूर्व छात्र आवश्यकता नुसार मदद दे सके।
        प्राचार्य डॉ शुक्ला ने महाविद्यालय के सम्पूर्ण विकास पर परत दर परत जानकारी दी। कुछ पुराने संस्मरण से पूर्व छात्रों की आँखे नम हो गयी, उन्होंने  कहा कॉलेज जीवन अविस्मरणीय है। कार्यक्रम   मीट के अध्यक्ष व समाजसेवी डॉ ओपी खंडेलवाल ने अध्यक्षता करते हुए महाविद्यालय के विकास क्रम के साथ स्ववित्तपोषित पाठ्यक्रम के बारे में अपने अनुभव बांटे।
    एलुमनी मीट आयोजन समिति पूर्व छात्रों के रिकॉर्ड तैयार कर 29 जुलाई  को होने वाले पूर्व छात्रों के सम्मेलन के लिए लगभग सभी  पूर्व छात्रों को जिनका रिकॉर्ड उपलब्ध है उन्हें पत्र, टेलीफोन व अन्य सूचना के साधनों का उपयोग कर आमंत्रित करने का कार्य कर रही है।
          इस कार्यक्रम में विशेष तौर पर
पूर्व छात्रों में रीटा.संयुक्त कलेक्टर श्री शोभाराम पाटीदार, रीटा.डिप्टी कलेक्टर श्री गंगाराम पाटीदार,रिटायर्ड जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री योगेश सोंनगरिया, रिटायर्ड वाणिज्यिक कर अधिकारी श्रीमती उर्मिला निगम,श्री शिवचंद्र छाजेड़, वरिष्ठ समाजसेवी श्री सुशील निगम व डॉ ओमप्रकाश खंडेलवाल के आतिथ्य में दूसरी एलुमनी मीट संम्पन्न हुई।
इस अवसर पर महाविद्यालय के डॉ एन एल गुप्ता, डॉ बी के जोशी, डॉ सपना सोनी, डॉ जे के गुप्ता, डॉ मधुसूदन चौबे, डॉ कांता अलावा, डॉ मंजुला जोशी, डॉ आशा साखी, डॉ मीनाक्षी पवार,सहित प्राध्यापक व कर्मचारियों सहित सैकड़ों पूर्व छात्र उपस्थित थे।
        कार्यक्रम का संचालन डॉ सुमेर सिंह सोलंकी,प्रोफेसर कपिल अहिरे ने व आभार डॉ दिनेश वर्मा ने माना।


Post A Comment:

0 comments: