*अलीराजपुर~बोरी में हुई दिन दहाडे डकैती का हुआ  पर्दाफाश*~~

*पुलिस को मिली बडी सफलता 3 आरोपी गिरफ्तार नगदी व मोटर साइकिल बरामद* ~~

✍जुबेर निज़ामी की रिपोर्ट ✍
अलीराजपुर 📲9993116518~~



अलीराजपुर थाना बोरीदिन दहाडे हुई लुट का हुआ पर्दाफास घटना दिनांक 21 जून 2019 की शाम को फरियादी अपनी मोटर सायकिल से उसके घर आटा चक्की रिपेयरिंग  के लिये बुलवाये गये नसरू, मुकाम व गांव के रवि को बोरी छोड़ने जा रहा था, कि अज्ञात 6 से 8 बदमाशों के द्वारा ग्राम कोल्याबयडा थापली रोड पर तीन मोटरसायकिल पर खड़े थे, जिन्होंने फरियादी को रोककर बोरी जाने का  रास्ता पुछा फिर  एक बदमाश ने फरियादी के साथ जा रहे नसरू की बोसाखी छिनकर रवि को सिरपर मारकर चोट पहुंचाई, इसी तरह फरियदी व अन्य राजेश के साथ भी मारपीट कर चांदी का कडा,  7600 रूपये नगदी, मोटरसायकिल स्पलेण्डर प्लस, मोबाईल आदि लूट कर भाग गये। बदमाशों ने मुंह
पर कपड़ा बांध रखा था। फरियादी  के द्वारा रेल्वे वर्कशॉप से 100 डायल को सूचना दी गई डायल 100 से सभी घायलो को बोरी थाने पर पहुंचाया गया   फरियादी सुरसिंह पिता लालसिह की रिपोर्ट पर थाना बोरी में अपराध क्र0  102/2019,
धारा 395 397 भादवि का अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध पंजीबद्ध किया जाकर अनुसंधान में लिया गया घटना राहजनी की घटना होने से बोरी पुलिस द्वारा घटना को बहुत ही गंभीरता से लिया गया।
उक्त घटना की पतारसी हेतु अनु विभागीय अधिकारी जोबट आर सी0 भाकर के नेतत्व में तीन टीमों का गठन किया गया, जिसमें उनि रामजी मिश्रा, सउनि दीपसिंह हाड़ा, सउनि प्यारेलाल वर्मा, प्रआर रामवीर सेंगर, आर विक्रम, आर सुनिल, मिथून, मुकेश, अजय, भूपेन्द्र, गरवर, सुरेन्द्र, केलाश, हिम्मत, रणसिह थे  उक्त गठित तीनों टीमों के द्वारा पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव, अति पुलिस अधीक्षक सीमा अलावा के निर्देशन में घटना दिनांक से अलग-अलग स्थानों पर जाकर घटना की पतारसी से हेतु गंभीरता से प्रयास
किये, जिसके परिणामस्वरूप पुलिस को मुखबीर द्वारा सूचना मिली की उक्त घटना के तीन आरोपी ग्राम
करचट नाले पर होकर कहीं जाने की तैयारी में है, सूचना पर तीनों टीमों के द्वारा बताये स्थान पर घेराबन्दी कर आरोपी बारम पिता करण सिह, नि, काकडवा, कमल पिता पनसिह नि0 काकडवा, राकेश पिता भंवर सिह
काकडकुआ थाना टाण्डा जिला धार को गिरफतार कर डकेती मे अपहत संपति मोबाइल, 5 हजार नगदी एवं
मोटरसाइकिल, बरामद करने में सफलता प्राप्त हुई है । घटना में शामिल अन्य बदमाशों की धरपकड हेतु कार्यवाही
जारी होकर प्रकरण अनुसंधान में है । सॉयबर टीम के सदस्य विजय एवं विशाल का भी योगदान रहा, जिनके द्वारा तकनीकी सहयोग किया गया ।

पुलिस अधीक्षक अलीराजपुर श्री विपुल श्रीवास्तव के द्वारा उपरोक्त तीनों टीमों को विभागीय प्रक्रिया अनुसार पुरस्कृत किये जाने की घोषणा की है ।


Post A Comment:

0 comments: