बड़वानी ~ नियम विरूद्ध जारी की गयी युक्तियुक्तकरण सूची को निरस्त करने के लिए कलेक्टर को दिया ज्ञापन~~



म. प्र. शासन आदिम जाति कल्याण विभाग मंत्रालय वल्लभ भवन भोपाल का पत्र क्र./एफ-4-18/2019/25-1 भोपाल दिनांक 24.08 2019 |
उपरोक्त विषय एवं संदर्भ में निवेदन है कि सहायक आयुक्त आदिवासी आदिवासी विकास विभाग बड़वानी द्वारा दिनांक 20.07 2019 को युक्तियुक्तकरण सूची जारी की गयी।

इस सूची मे निम्नानुसार विसंगतिया हैं :-

युक्तियुक्तकरण की सूची 20 जुलाई 2013 को वाट्सएप पर वायरल की गयी एवं 22 एवं 23 जुलाई को अतिशेष शिक्षकों की काउंसलिंग रख ली गयी। इस दौरान अधिकांश शालाओं के शिक्षकों की इसकी सूचना नहीं मिल पाई।। जारी की गयी सूची में भी कई प्रकार की विसंगतियों है। जैसे मृत शिक्षकों के नाम स्थानांतरित शिक्षकों के नाम, रिटायर्ड शिक्षकों को नाम के अलावा कई सालों के अतिशेष

शिक्षकों के नाम छोड़ दिये गये है। इस संबंध में सूची जारी की जाकर शिक्षा की दावा आपत्ति प्रस्तुत करने हेतु पर्याप्त समय दिया जाना था जो नही दिया गया है। अतिशेष शिक्षकों का निर्धारण विगत 3 शैक्षणिक सत्रों के नामांकन के आधार पर किया जाना था, लेकिन जारी की गयी सूची में दर्ज संख्या विसंगतिपूर्ण है। आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा जारी की गयी  स्थानांतरण नीति 2019-20 के अनुसार 10 जुलाई से पूर्व अतिशेष शिक्षकों की सूची जारी की जानी थी। ताकि अतिशेष हिक MPTASS के स्थानांतरण माड्यूल के माध्यम से आनलाइन आवेदन प्रस्तुत कर सके।

चूंकि MPTASS पर आवेदन की अंतिम तिथि समाप्त हो चुकी है। ऐसे में अंतिम तिथि समाप्त होने के पश्चात सूची जारी करने का कोई औचित्य नहीं है।
ज्ञापन देते समय मध्य प्रदेश शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष श्री मनोज गुप्ता सचिव श्री अनिल जोशी आजाद अध्यापक संघ के जिला अध्यक्ष शैलेंद्र जाधव अध्यापक कांग्रेस के जिला अध्यक्ष राकेश बच्चन राज्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष राधेश्याम यादव अध्यापक संघर्ष समिति के सदस्य हेमेंद्र मालवीय के साथ बड़ी संख्या में शिक्षक एवं अध्यापक उपस्थित रहे


Post A Comment:

0 comments: