खण्डवा~जनसुनवाई में कलेक्टर सुन्द्रियाल ने जनसमस्याओं का किया निराकरण~~

रवि सलुजा खण्डवा~~



- शासन के निर्देशानुसार प्रत्येक मंगलवार को जनसुनवाई कार्यक्रम के तहत नागरिकों की समस्याएं सुनकर उनका शासकीय कार्यालयों में निराकरण किया जाता है। इसी क्रम में आज नवागत कलेक्टर  तन्वी सुन्द्रियाल ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में अपनी समस्याओं के आवेदन लेकर आए विभिन्न नागरिकों की समस्याएं सुनी और उनके त्वरित निराकरण के लिए मौके पर उपस्थित अधिकारियों को निर्देष दिए। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रोशन कुमार सिंह सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारीगण मौजूद थे। 
जनसुनवाई में सावित्री इंदौरे ने कलेक्टर  सुन्द्रियाल को आवेदन देकर अनुरोध किया कि वह आशा कार्यकर्ता के रूप में अपने गांव में कार्य कर रही है, उसे मानदेय पिछले काफी समय से नही मिला है, जिस पर उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को आवेदिका को मानदेय भुगतान कराने के निर्देश दिए। खालवा निवासी बाबूलाल ने कलेक्टर सुन्द्रियाल को आवेदन देकर बताया कि उसके परिवार के सदस्य की सर्पदंश से मृत्यु हो गई थी, जिस पर 4 लाख रू. की राहत राशि एसडीएम हरसूद द्वारा स्वीकृत भी की गई थी, लेकिन राशि का भुगतान आज दिनांक तक प्राप्त नही हुआ है। कलेक्टर सुन्द्रियाल ने एसडीएम हरसूद को स्वीकृत सहायता राशि तत्काल भुगतान कराने के निर्देश दिए। सिहाड़ा निवासी कुमारी अंतिम मालाकार पुत्री अशोक मालाकार ने कलेक्टर  सुन्द्रियाल को आवेदन देकर बताया कि वह नर्सिंग का कोर्स कर रही है तथा पिता मजदूरी करते है इसलिए आर्थिक स्थिति ठीक न होने से उच्च शिक्षा ऋण के लिए आवेदन दिया था, जो अभी तक स्वीकृत नही हुआ है। कलेक्टर  सुन्द्रियाल ने लीड बैंक अधिकारी को स्टेंट बैंक शाखा सिहाड़ा के माध्यम से छात्रा को उच्च शिक्षा ऋण दिलाने में मदद करने के निर्देश दिए। 
जनसुनवाई में ग्राम भुरलाय तहसील पुनासा निवासी शुभम मीणा, सुन्दरलाल, राकेश व सतीश ने कलेक्टर  सुन्द्रियाल को आवेदन देकर बताया कि सिंगाजी थर्मल पावर के पानी रिसाव के कारण उनकी फसल खराब हो गई अतः मुआवजा दिलाया जाये। उन्होंने एसडीएम पुनासा को मामले का परीक्षण कर पात्रता अनुसार राहत दिलाने के निर्देश दिए। साविर मोनू उर्फ युसुफ ने कलेक्टर सुन्द्रियाल को आवेदन देकर बताया कि वह जेल में बंदी था गत दिनों उच्च न्यायालय के आदेश पर मुक्त हुआ है, लेकिन उसके द्वारा जेल में की गई मजदूरी का भुगतान जेलर द्वारा नही किया गया है। जिस पर कलेक्टर सुन्द्रियाल ने जेल अधीक्षक को मामले की जांच कर पात्रता अनुसार मजदूरी दिलाने के निर्देश दिए। ग्राम लखनपुर बंदी तहसील खालवा निवासी रामबाई ने बताया कि उसके पति स्व. शिवराम कोरकू की मृत्यु कुएं में गिरने से हो गई थी, लेकिन पति की मृत्यु के बाद कोई आर्थिक सहायता नही मिली जिससे परिवार का पालन पोषण अत्यन्त कठिन हो रहा है। कलेक्टर सुन्द्रियाल ने तहसीलदार खालवा को आवेदन भेजकर रामबाई को पात्रता अनुसार राहत दिलाने के निर्देश दिए। ग्राम मथेला निवासी लक्ष्मण पिता रामलाल ने बताया कि वह वृद्धावस्था के कारण मजदूरी नही कर सकता है, अतः उसे वृद्धावस्था पेंशन योजना का लाभ दिलाया जाये। कलेक्टर श्रीमती सुन्द्रियाल ने संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को वृद्धावस्था पेंशन की पात्रता शर्तो के अनुसार लक्ष्मण को वृद्धावस्था पेंशन दिलवाने के निर्देश दिए।


Post A Comment:

0 comments: