देवास /खातेगांव क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर एक ही दिन में दो
शव मिलने से सनसनी फैली,~~

युवक का शव नाले में तो किसान का शव नदी में मिला,~~

अनिल उपाध्याय
खातेगांव~~



सोमवार को खातेगांव क्षेत्र में दो अलग-अलग स्थानों पर शव मिलने से सनसनी फैल गई, पहला शव इंदौर बैतूल नेशनल हाईवे पर संदलपुर खातेगांव के बीच स्थित दिगंबर जैन विद्या मंदिर के पास स्थित नाले में मिला, जबकि दूसरा शव खातेगांव- विक्रमपुर मार्ग पर स्थित ग्राम मोला की नदी में  मिला दोनों ही घटनाओं में पुलिस ने मर्ग कायम कर शवो को पीएम के लिए अस्पताल पहुंचाया जहां शवो का पीएम कर शव परिजनों को सौंप दिया है,
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को सुबह खातेगांव में नेमावर रोड पर पुराने दानवीर दिगंबर जैन स्कूल के सामने नाले में एक शव मिलने से नगर में सनसनी फैल गई। जैसे ही पुलिस को सूचना मिली तुरंत खातेगांव पुलिस मौके पर पहुंची।
ओर देखा कि नाले में एक युवक का शव पड़ा है। पुलिस ने
शव की जांच पड़ताल की तो मृतक की पहचान दिनेश पिता प्रेम नारायण उम्र 26 वर्ष निवासी सुलगांव के रूप में हुई ।

ससुराल जाने के लिए 4 दिन पहले निकला था मृतक घर से
-------------------------
पुलिस को मृतक के भाई विनोद   ने  बताया कि उसका बड़ा भाई दिनेश  4 दिन पहले घर से ससुराल कलवार जाने के लिए निकला था। उसे 7 जुलाई को दिनेश ने करीब 5 बजे फोन कर बताया कि मैंने बहुत शराब पी ली है। मैं संदलपुर में हूं मुझे लेने आ जाओ तो मैं तथा मेरे दोस्त रामभरोस व ओम प्रकाश मेरे भाई को लेने संदलपुर पहुचे जहां मेरा भाई संदलपुर में नहीं दिखा तो फिर हम तीनों तलाश करने लगे सोमवार सुबह हम तीनों खातेगांव की तरफ जा रहे थे तो नेमावर रोड पर पुराने दिगंबर जैन स्कूल के सामने भीड़ दिखी तो हम वहां रुक गए वहां हमने देखा तो एक व्यक्ति की लाश नाले के किनारे पर पड़ी थी। जिसको मैंने पास जाकर देखा तो वहां मेरा भाई दिनेश मुझे दिखाई दिया फिर मैंने पुलिस को सूचना दी पुलिस ने मौके पर पंचनामा बनाकर शव को  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुची ,

बोनी के लिए ट्रैक्टर लेने पहुंचा किसान वापस घर नहीं लौटा
-------------------
दूसरी घटना खातेगांव विक्रमपुर के बीच स्थित मौला नदी में एक शव पड़ा होने की सुचना पर खातेगांव पुलिस एवं 100 डायल ने मौके पर पहुंचकर शव को नदी से बाहर निकाला उसकी शिनाख्त आदिवासी किसान मनफूल पिता विजय सिंह जाति गौड उम्र 59 वर्ष निवासी आमला के रूप में हुई ,मृतक के बारे में ग्रामीणों ने बताया कि वह सोयाबीन की बोनी करने के लिए ट्रैक्टर लेने शनिवार को ग्राम मोला गया था, वापस घर नहीं लौटा और सोमवार को उसका शव नदी में मिला पुलिस ने मौका पंचनामा बनाकर शव को पीएम के लिए खातेगांव अस्पताल लेकर पहुंची, पुलिस मामले की जांच कर रही है

एक शव का पीएम कन्नोद में
तो दूसरे का पीएम 6 घंटे बाद हुआ खातेगांव में ,
---------------------
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा जहां डॉक्टर की कमी के चलते आज सुबह अस्पताल परिसर में डॉक्टर नहीं होने के कारण परिजन पीएम के लिए दर-दर भटकते रहे मृतक के शव को खातेगांव से 19 किलोमीटर दूर कन्नौद पहुंचाया जहां कन्नौज में मृतक दिनेश पिता प्रेम नारायण का पीएम किया गया। दूसरी घटना में मृतक किसान मनफूल का शव खातेगांव के सरकारी अस्पताल स्थित पीएम रूम में 6 घंटे तक पड़ा रहा तब कहीं जाकर 5 बजे पीएम हो पाया, खातेगांव में डॉक्टर नहीं होने के कारण पीएम के लिए घंटों इंतजार करना पड़ता है परिजनों को अनावश्यक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।एक तरफ तो जिस परिवार में मौत के बाद गम का माहौल होता है।उसी परिवार को पीएम के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है आखिर सत्ता पक्ष एवं विपक्ष दोनों ही क्यों मौन है आखिर कब खातेगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की ओर ध्यान देकर क्या नागरिकों को चिकित्सक उपलब्ध कराएंगे क्या क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं मिलेगी ।


Post A Comment:

0 comments: