झाबुआ~मजदूरों के बच्चों को मिलेगी राष्ट्रीय छात्रवृत्ति -पहली से चौथी तक 250 -तो एमबीए ,एमबीबीएस को 15 हजार रुपए मिलेंगे ~~

झाबुआ। संजय जैन~~

बीड़ी,चूना-पत्थर,डोलोमाइट,लौह मैग्नीज और क्रोम अयस्क खदानों में मजदूर व श्रमिकों के बच्चों को सरकार प्री-मैट्रिक और पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति देगी। इसके लिए श्रमिकों के बच्चों से आवेदन भी मंगवाए गए हैं। शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना में पात्र छात्र-छात्राएं नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल से आवेदन कर सकते हैं। 

प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए आवेदन की अंतिम तारीख 15 अक्टूबर और पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए 31 अक्टूबर 2019 है। योजना में कक्षा-एक से चार तक अध्ययनरत पात्र छात्र-छात्राओं को 250,पांचवीं से आठवीं तक छात्रों को 500, छात्राओं को 940,कक्षा-नौवीं में छात्रों को 700 और छात्राओं को 1140, कक्षा दसवीं के छात्रों को 1400 और छात्राओं को 1840, 11वीं और 12वीं के छात्रों को 2 हजार,छात्राओं को 2440,स्नातक,तीन वर्षीय डिप्लोमा एवं स्नातकोत्तर छात्र-छात्राओं को तीन-तीन हजार,अव्यावसायिक स्नातक-स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम,बीसीए,बीबीए,डीसी,और पीजीडीसीए छात्र-छात्राओं को तीन-तीन हजार,बीई,बीटेक,एमबीबीएस,बीएएमएस,बीयूएमएस,बीएससी कृषि,एमसीए,एमबीए के छात्र-छात्राओं को 15-15 हजार और आईटीआई छात्र-छात्राओं को 10-10 हजार रुपये छात्रवृत्ति का प्रावधान है। 

.....और इधर,नए अविष्कार करने व बहादुर बच्चों को सरकार देगी एक-एक लाख रुपए का इनाम 

महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 31 अगस्त है। बाल शक्ति पुरस्कार के तहत नए अविष्कार,असाधारण शैक्षिक योग्यता कला,खेलकूद,सांस्कृतिक क्षेत्र,समाज सेवाए बहादुरी के क्षेत्र में असाधारण उपलब्धि हासिल करने वाले बच्चे जिनकी आयु 31 अगस्त को 05 वर्ष से 18 वर्ष तक की हो को 26 जनवरी को राष्ट्रपति द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। वही बाल कल्याण पुरस्कार ऐसे व्यक्ति,व्यक्तियों,संस्थाओं को दिया जाएगा जिन्होंने बाल कल्याण के क्षेत्र में असाधारण कार्य किया हो। दोनों ही पुरस्कारों में एक-एक लाख रूपए की राशि एवं एक मैडल दिया जाएगा। बाल शक्ति पुरस्कार विजेताओं को गणतंत्र दिवस परेड में शामिल किया जाएगा। 

Post A Comment:

0 comments: