खिलेडी/पाना~~लकड़ी के पुल से नाला पार करते समय युवक  नाले में गिरने से पानी मे बहा~~

जगदीश चौधरी (खिलेडी)6261395702~~



खिलेडी-क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से नदी नाले उफान पर हैं। वहीं लगातार हो रही तेज बारिश से जनजीवन भी अस्त-व्यस्त हो चुका है इसी के चलते  गुरुवार को  फुलेड़ी पंचायत के ग्राम पाना  में अपने खेत पर जाने के लिए लकड़ी का पुल पार करते समय लकड़ी के पुल पर पांव फिसल जाने से नाले में बह गया।

जिसे ग्रामीणों ने घंटों तक तलाश किया वहीं तेज बारिश के दौरान ग्रामीण युवक को तलाशने के लिए तालाब के पास ही डटे रहे शाम 4:00 बजे धार से रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। घंटो के बाद पहुंची रेस्क्यू टीम शासन प्रशासन के अधिकारी की लापरवाही के कारण यहां पर युवक की मौत हो गई युवक के डूबने के 7 घंटे के बाद पहुंची थी
रेस्क्यू टीम। शासन प्रशासन का कोई अधिकार नही पहुचा मौके पर आला अधिकारियों की बात करें तो जिम्मेदार अधिकारी भी अभी तक कोई नहीं पहुंचा।

ज्ञात है कि शहीद रविंद्र सिंह राठौर की पुण्य तिथि 9 जुलाई को सभी शहीद रविंद्र सिंह राठौड़ स्मृति मंच द्वारा मनाई जाती है इस दौरान बदनावर एसडीएम नेहा साहू भी शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए गांव पहुंची थी इस दौरान ग्रामीणों ने लिखित में आवेदन देकर के पुलिया के निर्माण के संबंध में अवगत कराया था साथी अधिकारी ने मौके पर पहुंचकर के नाले व तालाब वह पुलिया का निरीक्षण भी किया था और ग्रामीणों को आश्वस्त किया था कि जल्द ही इस समस्या से निजात दिलाई जाएगी लेकिन एक महीना बीत चुका है अभी तक ग्रामीणों की मांग पूरी नहीं हो पाई इसी दौरान यह हादसा हो गया और युवक की मौत हो गई।

अब जिम्मेदार अधिकारी की यहां पर बड़ी चूक नजर आ रही है 


10 वर्ष पूर्व किया गया था तालाब का निर्माण पहले तालाब की पाल बनी हुई थी।तालाब बनने के बाद पाल को हटा दिया गया वह नाला बनाया गया लेकिन नाले के ऊपर पुलिया नहीं बनाई गई जिससे आम ग्रामीणों को अपने खेतों पर जाने के लिए ग्रामीणों ने खजूर के पेड़ से पुलिया बनाई व इस पार से उस पार अपने खेतों पर जाने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की ग्रामीणों द्वारा शासन के अधिकारियों को कई बार इस बारे में अवगत कराया जा चुका है लेकिन जिम्मेदार अधिकारी ने इस और जरा भी ध्यान नहीं दिया। व युवक  हादसे का शिकार हो गया। देर शाम 5:30 बजे शव को टीम ने बाहर निकाला दसई चौकी की पुलिस अमझेरा पोस्टमार्टम के लिए ले गई पटवारी कांशीराम साहब ने बताया ।


Post A Comment:

0 comments: