राजोद:- श्री राजेन्द्र सुरि साख सहकारी संस्था मर्यादित शाखा राजोद के खाता धारकों ने अपनी जमा पूंजी नहीं मिलने पर थाना राजोद पहुंच कर थाना प्रभारी को आवेदन दिया~~

पवन वीर राजोद 9993688124~~



राजोद:- श्री राजेन्द्र सुरि साख सहकारी संस्था मर्यादित शाखा राजोद के खाता धारकों ने अपनी जमा पूंजी नहीं मिलने पर थाना राजोद पहुंच कर थाना प्रभारी को आवेदन दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार राजोद में स्थापित श्री राजेन्द्र सुरि साख सहकारी संस्था ने क्षेत्र के हजारों लोगों के करोड़ो रूपये जमा कर विगत कई माह से संस्था पर ताला डाल रखा है। संस्था के खाता धारक अपनी जमा पूंजी पाने के लिए विगत एक वर्ष से संस्था के चक्कर लगा रहे है, कइयों को तो संस्था द्वारा कोरे दिलासे के तौर पर अन्य बैंकों के चेक भी दिए लेकिन ना तो किसीको साखा से पैसे लौटाए ओर ना ही दिए गए चेक पास हुए। बार बार श्री राजेन्द्र सुरि साखा पर जाने के बाद भी जमा कर्ताओं को अपने खून पसीने से कमाई पूंजी नहीं मिली, हद तो तब हो गई कि संचालक मंडल ने विगत तीन माह से राजोद की शाखा का ताला भी नही खोला है। यह देख लोगों के सब्र का बांध टूटने लगा है। इसी बात को लेकर राजोद के खाता धारक बरसते पानी मे बुधवार को राजोद शाखा पर इकठ्ठा होकर थाना राजोद पहुंचे तथा थाना प्रभारी राजु मकवाना को एक सामूहिक आवेदन दिया है। थाना प्रभारी राजू मकवाना को दिए आवेदन में उल्लेख किया है कि हम आवेदनकर्ता श्री राजेन्द्र सुरि साख सहकारी संस्था मर्यादित शाखा राजोद के खाताधारक होकर बैंक में जमा राशि की निकासी को लेकर परेशानी में है। पिछले एक वर्ष से अधिक समय से संस्था प्रबंधक हम खाता धारकों को अपनी जमा राशि नहीं लौटा रहा है। कई खाता धारकों के चेक बाउंस हो चुके है लेकिन प्रबंधक स्थिति को गंभीरता से नहीं ले रहा है। राजोद शाखा के खाता धारकों में भरोसा था कि संस्था कार्यालय खुला है तो पैसे मिल जाएंगे परंतु कुछ महीने से अब संस्था के ताले भी नहीं खुल रहे है। ऐसी स्थिति में सभी खाताधारक संस्था प्रबंधन के खिलाफ करवाई नहीं होने की दशा में दिनांक 26/8/2019 से धरना प्रदर्शन, अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल जैसे सख्त कदम उठाने के लिए बाध्य होना पड़ेगा तथा संस्था प्रबंधन से प्रशासन जमा राशि दिलवाए जाने तक आंदोलन जारी रहेगा। आवेदन का वचन रमण कुमरावत ने किया। इस दौरान बसंतीलाल गेहलोद, ईश्वर प्रजापत, राजाराम कावलिया, कैलाश अटोलिया, समरथ पोपण्डिया, लोकेंद्र राठौड़, वीरेंद्र प्रजापत, नवीन अग्निहोत्री के साथ बड़ी संख्या में खाता धारक उपस्थित थे।


Post A Comment:

0 comments: