*मनावर ~आज नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के आयुक्त श्री शर्मा द्वारा सरदार सरोवर परियोजना के डूब प्रभावित ग्रामों का जायजा*~~

निलेश जैन मनावर ~~


नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के आयुक्त पुनर्वास फील्ड इन्दौर पवन शर्मा ने आज बुधवार को सरदार सरोवर परियोजना के अन्तर्गत कुक्षी अनुविभाग के डूब प्रभावित ग्रामों के पुनर्वास स्थलों का जायजा लिया। शर्मा ने नर्मदानगर पहुॅंचकर ग्रामीणों से रू-ब-रू चर्चा की और पेयजल व्यवस्था तथा ड्रेनेज लाईन के संबंध में जानकारी प्राप्त की। शर्मा ने ग्राम नानकबयडी के ग्रामीणों से पेयजल व्यवस्था की जानकारी प्राप्त की और ग्रामीणों ने अवगत कराया कि पेयजल के लिए व्यवस्था नहीं है। शर्मा ने ग्रामीणों की इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए पानी की पाईप लाईन डालने के लिए 60 लाख रूपये की राशि तत्काल उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया और संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए है कि इसका प्रस्ताव तत्काल तैयार कर प्रस्तुत करें, ताकि ग्रामीणों की पेयजल समस्या का समाधान हो सके। श्री शर्मा ने गांव में स्थापित राहत केम्प का जायजा लिया और पेयजल के लिए बोरिंग में मोटर लगाकर शीघ्र चालू करने के निर्देश दिए। साथ ही चौकीदार की व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए ताकि सामान को सुरक्षित रखा जा सके। सरदार सरोवर परियोजना के डूब प्रभावित ग्रामों में कानून और व्यवस्था बनाएं रखने के लिए आवश्यक बल उपलब्ध कराने का आश्वासन पुलिस अधीक्षक को दिए, ताकि वे आवश्यकतानुसार डूब क्षेत्र में सुरक्षा के इंतजाम कर सके। शर्मा द्वारा आज ग्राम कड़माल-1 तथा कड़माल-2 के ग्रामीणों से भी पीने के पानी और ड्रेनेज लाईन के संबंध में जानकारी प्राप्त की और ड्रेनेज का कार्य 25 अगस्त तक पूर्ण कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए। श्री शर्मा ने प्रभावित लोगों को मुआवजा वितरण के कार्य की समीक्षा की। इसके बाद श्री शर्मा ने ग्राम चिखल्दा में डूब प्रभावित लोगों से उनकी समस्याओं के संबंध में जानकारी ली। इसके बाद वे निसरपुर के पुनर्वास स्थल का भी जायजा लिया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोठ, पुलिस अधीक्षक आदित्यप्रताप सिंह, संयुक्त संचालक नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण श्री खरे, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कुक्षी श्री बी.एस. कलेश, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मनावर सत्यनारायण दर्रो, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग एनव्हीडीए गुप्ता सहित लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


Post A Comment:

0 comments: