खंडवा~ओम्कारेश्वर नगर परिषद के ठेकेदार द्वारा पार्किंग शुल्क के नाम से जगह-जगह मार्गो पर से गुजरने वाली गाड़ियों से वसूला जा रहा है पैसा ~~

रवि कुमार खंडवा~~



धार्मिक स्थलों को लूट का अड्डा बना दिया गया है हजारों किलोमीटर दूर से भक्तगण अपनी श्रद्धा और आस्था के साथ अपनी भावनाओं से लीन होकर भगवान के चरणों में अपने शीश नवा जाने के लिए पहुंचते हैं पर एक ऐसा ही मामला ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग ओंकार महाराज पहुंचने के लिए भक्त गणों को पार्किंग शुल्क के नाम से मुख्य मार्गो से गुजरने वाले वाहनों से पैसा वसूल किया जा रहा है यह पैसा नगर परिषद ओंकारेश्वर ने ठेका अनुसार प्रति साल निकाला जाता है यह ठेका पार्किंग शुल्क के नाम से दिया होता है पर कई श्रद्धालुओं से अभद्रता पूर्ण पार्किंग शुल्क का पैसा वसूल किया गया जिससे श्रद्धालुओं ने बताया कि पार्किंग स्थल पर तो ठेकेदार का कोई भी व्यक्ति कर्मचारी मौजूद नहीं था जहां पार्किंग स्थल शासन की ओर से बनाए गए थे वहां तो पार्किंग अपनी मर्जी से लगाई जा रही थी गाड़ी को पार्क लगाकर जब ओंकारेश्वर महाराज के दर्शन करके पार्किंग स्थल पर पहुंचे तो अपनी ही पार्क की हुई गाड़ी को निकालने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा सभी गाड़ियां अव्यवस्थित रूप से पार्क की गई थी जब पार्किंग का पैसा वसूला जाता है तो गाड़ी को पार्क करने का जिम्मा  नगर परिषद ओंकारेश्वर के ठेकेदार का होता है पर ठेकेदार अपने दादागिरी पूर्ण रवैए  से आने वाले भक्तों को धमका कर अपनी वसुली करता रहा . नाराज भक्तों ने बताया है कि शासन और प्रशासन के तमाम कर्मचारी अधिकारी मौके पर मौजूद थे पर शायद इनकी आंखें वहां तक अपनी नजरें नहीं घुमा सकी सिर्फ आने वाले भक्तों को बे फिजुल इधर से उधर दौड़ाया करते है और शासन प्रशासन के नुमाइंदे इतिश्री कर लेते हैं

पूरे मामले की जानकारी पुनासा एसडीएम ममता खेड़ी से ली इनका कहना है कि मार्गों पर वसूली करना गलत है जहां पार्किंग स्थल बनाए गए हैं वहीं से गाड़ी को पार्क कराकर पैसा वसूल किया जाना है ...

नगर परिषद ओंकारेश्वर के सीएमओ राजा यादव को पूरे मामले की जानकारी से अवगत कराने के बाद उन्होंने कहा कि मार्गो से पैसा वसूल किया जा रहा है तो मैं स्वयं ठेकेदार को निर्देशित कर वसूली बंद की कराई जाएगी जो पार्किंग स्थान तय किए गए हैं वहां से ही पैसा वसूल किया जाए


Post A Comment:

0 comments: