।।  *सुप्रभातम्*  ।।
               ।।  *संस्था  जय  हो*  ।।
        ।।  *दैनिक  राशि  -  फल*  ।।
        आज दिनांक 21 सितम्बर 2019 शनिवार संवत् 2076 मास आश्विन कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि रात्रि 08:19 बजे तक रहेगी उपरांत अष्टमी तिथि लगेगी । आज सूर्योदय प्रातः काल 06:14 बजे एवं सूर्यास्त सायं 06:25 बजे होगा । रोहिणी नक्षत्र प्रातः 11:21 बजे तक रहेंगा पश्चात मृगशीर नक्षत्र आरंभ होगा । आज का चंद्रमा रात्रि 11:36 बजे तक वृषभ राशि में भ्रमण करते हुए मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे । आज का राहू काल प्रातः काल 09:17 से 10:48 बजे तक रहेंगा । दिशाशूल पूर्व दिशा में रहेंगा यदि आवश्यक हो तो उडद का सेवन कर यात्रा आरंभ करें । जय हो 

                  *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
         श्री मंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245,एम.जी.रोड (आनंद चौपाटी)धार, एम.पी.
                  मो. नं.  9425491351

                   *आज का राशि फल* 

          मेष :~ शारीरिक- मानसिक स्वास्थ्य बना रहेगा। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुंदर भोजन करने तथा आनंदपूर्वक समय व्यतीत होगा। आर्थिक मामले में भविष्य के लिए अच्छा प्लानिंग कर सकेंगे। आय में वृद्धि होगी। कलाकार एवं कारीगरों को उनकी कला का प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा और उनकी कदर होगी। नकारात्मक विचारों से दूर रहें ।

          वृषभ :~ आज का दिन स्फूर्तिला और प्रसन्नतापूर्ण रहेगा। स्वास्थ्य अच्छा रहने से सुख और आनंद की अनुभूति होगी। सगे- सम्बंधियों या मित्रों की तरफ से उपहार मिलेगा। प्रवास और स्वादिष्ट भोजन आपके दिन को आनंद दायक  बनाएगा। आर्थिक लाभ की संभावना है।

          मिथुन :~ आज संयमशील और विचारपूर्ण व्यवहार आपको बहुत से अनिष्टों में से बचा लेंगे। आपके वाणी- व्यवहार से गलत फहमी पैदा होगी। शारीरिक कष्ट, मन को भी अस्वस्थ बनाएँगे। परिवार में क्लेश का वातावरण रहेगा। आँख में पीडा होगी। खर्च अधिक रहेगा। आध्यात्मिक व्यवहार मानसिक शांति दे सकेंगे।

          कर्क :~ आकस्मिक धन प्राप्ति और बहुविधि लाभ से आज का दिन अत्यंत रोमांचक और आनंदप्रद बना रहेगा। आय में वृद्धि होगी। व्यापारियों को मुनाफा वाले सौदे होंगे। पुत्र और पत्नी से लाभ होगा।

          सिंह :~ आपके कार्यों में विलंब से सफलता मिलेगी। आफिस या घर में उत्तरदायित्वों का बोझ बढ़ेगा। जीवन में अधिक गंभीरता का अनुभव करेंगे। नए सम्बंध स्थापित करने या कार्य के सम्बंध में महत्त्वपूर्ण निर्णय न ले। पिता के साथ मतभेद उत्पन्न होगा। शुभ अवसर के आयोजन के लिए समय अच्छा नहीं है।

          कन्या :~ शरीर में थकान, आलस और चिंता होगी । संतानों के साथ मतभेद या मनमुटाव होगा। उनके स्वास्थ्य की चिंता सताएगी। आफिस में उच्च पदाधिकारियों के साथ वाद विवाद होगा। राजनीतिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। धार्मिक कार्यों या धार्मिक यात्रा के पीछे धन खर्च होगा। भाई- बंधुओं द्वारा लाभ होने की संभावना  हैं।

          तुला :~ स्वास्थ्य का ध्यान रखें । कटु वचन या खराब व्यवहार से विवाद होंगे। क्रोध और कामवृत्ति पर संयम रखें । हितशत्रु अधिक प्रवृत्त होगे। आकस्मिक धनलाभ होगा। समय से भोजन करने में विलंब तथा अत्यधिक तथा अत्यधिक खर्च आपके मन को अस्वस्थ बनाएँगे। स्त्रियाँ तथा जलाशय से दूर रहें ।

          वृश्चिक :~ नौकरी- धंधा और व्यवसाय के क्षेत्र में आज आपको लाभ ही लाभ है। इसके साथ मित्रों, सगे सम्बंधियों और बुजुर्गों से भी लाभ प्राप्ति का संकेत है। सामाजिक समारोह, पर्यटन जैसे प्रसंगों में जाएँगे। आप प्रफुल्लित रहेंगे। आय के स्रोत बढ़ेंगे।

          धनु :~ आर्थिक और व्यापारिक आयोजन के लिए आज का दिन शुभ है। कार्य सरलतापूर्वक सफल होगा । परोपकार की भावना आज  रहेगी। आमोद-प्रमोद के लिए आपका दिन व्यतीत होगा। नौकरी व्यवसाय में उन्नति और मान- सम्मान प्राप्त होगा।

          मकर :~ बौद्धिक कार्यों और व्यवसाय में नई विचारधारा अमल में लाएँगे। लेखन और साहित्य से सम्बंधित प्रवृत्तियों में आपकी सृजनात्मकता दिखाई देगी, फिर भी मन के किसी कोने में आपको अस्वस्थता अनुभव होगा। परिणाम स्वरूप शारीरिक थकान और ऊबन रहेगी। संतानों के प्रश्नों के विषय में चिंता उदित होगी। उच्च पदाधिकारियों या प्रतिस्पर्धियों के साथ चर्चा में उतरे ।

          कुंभ :~ नकारात्मक विचारों से मन में हताशा होगी । इस समय मानसिक उद्वेग और क्रोध अनुभव करेंगे। खर्च बढ़ेगा। वाणी पर संयम न रहने से परिवार में मनमुटाव और झगड़े की संभावना है। स्वास्थ्य खराब होगा। दुर्घटना से बचें। ईश्वर का नाम स्मरण और आध्यात्मिक पठन और मानसिक शांति देंगे

          मीन :~ आज का दिन (सुख-शांति से व्यतीत होगा) व्यापारियों को भागीदारी के लिए उत्तम समय है। मित्रों तथा स्वजनों के साथ मिलन मुलाकात होगी। सार्वजनिक जीवन में प्रगति होगी । ( डाँ. अशोक शास्त्री  )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री  कृष्ण  ।।  जय  गुरुदेव  ।।


Post A Comment:

0 comments: