खंडवा/बीड~सिंगाजी धाम पंहुच मार्ग जर्जर खस्ताहाल ~~

सिंगाजी मेले के बचे कुछ ही दिन शेष ~~

रवि सलुजा खंडवा/बीड~~

निमाड के चमत्तकारी संत के नाम से जाना जाता सिंगाजी धाम जहां पहुचने के लिए दर्शनाथियों को लंबे चौडो गढढे से गुजर कर पंहुचना पडता है बने रोड ही हालात इतनी दर्दनाक हो चुकी है की आठ किलो मीटर के पंहुच मार्ग पार करने पर एक घंटे का समय तय करना होया है  रोजाना सिंगाजी धाम पर सेंकडो की तादाद में भक्त दर्शन को आते है रोजाना चार पहिया दो पहिया वाहन चालको को बहुत परेशानियो का सामना करना पड रहा है

तीस दिन मेले को शेष ,प्रशासन को ध्यान देने की जरुरत :-

सिंगाजी धाम पर लगने वाले मेले को कुछ ही दिन शेष रह चुके हैं पर प्रशासन के जवाबदार अधिकारियों ने अभी तक प्रमुख मार्गो की और नजरे नही धुमाई जो खस्ताहाल हालत में मौजूद है जो  निर्माणा के कंगार पर है पर जवाबदार अभी तक शायद सोच नहीं पाए है पर सिंगाजी महाराज के  मेले का समय नजदिक आ चुका है  जिसमें लाखों की तादाद में भक्त लोग पहुंचते हैं और दर्शन कर अपनी मुराद पूरी करते हैं सिंगाजी महाराज म़े लगने वाले मेले का शरद पूर्णिमा का दिन मुख्य दिवस का दिन होता है उस दिन लगभग दो लाख से अधिक श्रद्धालु  सिंगाजी महाराज की समाधि स्थल पर पहुंचते है इन खस्ताहाल रोड पर आए दिन दुर्घटनाएं भी होती रहती है पर कोई भी जवाबदारो मैं अभी तक कोई उपाय नहीं करा है


मेले में सक्रिय होते है अवैध करोबारी ..
भक्तों की आस्था के साथ अवैध कारोबारी करते है खिलवाड़ बडी आस्था के साथ दर्शनाथी संत की समाधी पर पंहुचते है पर मेले के दौरान कुछ अवैध मांस मंदिरा के करोबारी अपनी सेंटिग करके मेले की आबो हवा को बिगाड देते है प्रशासन से क्षेत्रिय ग्रामीण यह चाहते है की यह मेला चमत्तकारी संत सिंगाजी महाराज का मेला है जहां भक्त अपने परिवार सहित दर्शन को पंहुचता है और वहां मोजुद असमाजिक तत्तवो का भी क ई बार शिकार हो जाता है मेले में पुलिस प्रशासन को ध्यान देने की जरुरत ..


  इनका कहना है ।मेला लगने से पहले पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा रोड का पेंचवक्र कराया जाएगा अभी जैसी बारिश खत्म होती है उसी तत्काल बात पूरे रोड का पैच वर्क कराया जाएगा जिससे मेले में पहुंचने वाले दर्शनार्थियों को समस्या ना हो ।ममता खेड़े पुनासा एस डी एम )


Post A Comment:

0 comments: