*बुरहानपुर~बिम्ट्स कालेज में ‘‘न्यूट्रीशियन सप्ताह’’ में सेमीनार, माईम एक्ट, पोस्टर एवं पोषक आहार प्रदर्शन प्रतियोगिताओं का हुआ आयोजन*~~

बुरहानपुर (मेहलक़ा अंसारी)

प्रो.बृजमोहन मिश्रा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड टेक्निकल साइसेंस महाविद्यालय के जनसंपर्क अधिकारी मिर्ज़ा राहत बेग ने बताया कि बिम्ट्स कालेज में नर्सिंग विभाग के विद्यार्थियों द्वारा दो दिवसीय ‘‘पोषक आहार सप्ताह‘‘ मनाया गया । प्रथम दिवस महाविद्यालय में पोषक आहार एवं स्वस्थ्य शरीर के लिए आवश्यक जानकारी देने हेतु ‘‘स्वस्थ खाओ, शारीरिक गतिविधि करो और इसे आगे बढ़ाओ'‘ थीम के साथ कार्यक्रम हुआ। जिसमें सेमीनार, माईम एक्ट, पोस्टर प्रदर्शन प्रतियोगिता एवं पोषक आहार प्रदर्शन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। दूसरे दिन बुरहानपुर जिले के ग्राम जसौंदी एवं ग्राम चिल्लारा में ग्रामीण क्षेत्र में जागरूकता फैलाने हेतु रैली एवं नुक्कड़ नाटक का आयोजन कर पोषक एवं संतुलित आहार के महत्व को समझाया गया।
‘‘न्यूट्रीषियन सप्ताह’’ के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित श्रीमती माया झंवर एवं संस्था अध्यक्ष श्रीमती राखी मिश्रा ने मॉ सरस्वती व प्रो.बृजमोहन मिश्रा जी के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर किया। कार्यक्रम में संस्था उपाध्यक्ष अनिल जैन, प्राचार्य सैय्यद आसिफ अली, डॉ.जैनुद्दीन अली, नर्सिंग के प्रभारी शैलेंद्र उपाध्याय, प्रिनु थॉमस, अर्जुन वर्मा आदि शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित रहे।  मुख्य अतिथि श्रीमती माया वैभव झंवर ने स्वास्थ्य एवं पोषक आहार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी और बताया कि मधुमेह से बचने में भोजन एवं व्यायाम की एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। हम कब और कितना भोजन करते है, इस पर स्वास्थ्य से जुड़ी बहुत-सी बातें निर्भर करती है। हमें हरी सब्जियां, फल, पके हुए साबुत अनाज का सेवन करना चाहिए। वहीं वसायुक्त खाद्य पदार्थ, फास्ट फुड, तेलीय पदार्थ इत्यादि से बचना चाहिए। पोषक तत्वों को कमी से शरीर कुपोषण का शिकार हो सकता है। वहीं आवश्यकता से अधिक भोजन के कारण शरीर मोटापे का शिकारकार हो सकता है जो कि बहुत-सी बीमारियों जैसे ब्लड प्रेषर, ह्दयघात, मधुमेह की जड़ है। कार्यक्रम को संस्था अध्यक्ष श्रीमती राखी मिश्रा ने भी संबोधित कर मार्गदर्शन दिया।कार्यक्रम में उत्कृष्ट पोस्टर प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों में प्रथम पुरस्कार मिनाक्षी तोमर, द्वितीय सोनू मासरे एवं तृतीय पुरस्कार जागृति ब्राम्हने को दिया गया। इसी प्रकार उत्कृष्ट पोषण आहार प्रदर्शन में प्रथम पुरस्कार नाज़मीन एवं गु्प, द्वितीय पुरस्कार आम्रपाली एवं गुरूप एवं तृतीय पुरस्कार लारविनी एवं ग्रुप को दिया गया। इसी तारतम्य में दूसरे दिन ग्राम जसौंदी एवं ग्राम चिल्लारा में ग्रामीणों को पोषक आहार एवं स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता फैलाने हेतु रैली का आयोजन किया गया। रैली ग्राम के मुख्य मार्गों से होते हुए ग्राम चौपाल पर समाप्त हुई और ग्राम चौपाल पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से नर्सिंग विद्यार्थियों ने पोषक आहार एवं स्वास्थ्य संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी दी। कार्यक्रम में विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करने हेतु नर्सिंग विभाग के अश्विनी चौधरी, मयूर पाटिल, अनुराग मंडलोई, अंकित केलकर, अनिता सिसौदिया, मयूरी चौहान, प्रियंका चौहान, मार्टीना जॉन आदि मौजूद रहे तथा 300 से अधिक विद्यार्थियों ने ज्ञानार्जन किया। इस न्यूट्रीषियन सप्ताह की सफलता पर संस्था अध्यक्ष श्रीमती राखी मिश्रा, उपाध्यक्ष अनिल जैन, सचिव अमित मिश्रा, संस्था के उपप्राचार्य सैय्यद आसिफ अली, प्रशासनिक अधिकारी विशाल गोजरे, डॉ.जैनुद्दील अली, डॉ.शीतल पाटीदार, संतोष मावले, हेमलाल सोलंकी, मनिन्दर सिंह, जयप्रकाष पाटील, अमोल काले एवं समस्त स्टॉफ ने शुभकामनाएं दी हैं ।


Post A Comment:

0 comments: