बड़वानी~डूब प्रभावितो के बीच लगाया विधिक साक्षरता शिविर~~

बड़वानी /जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष/जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री रामेश्वर कोठे के निर्देशन पर बड़वानी जिले के आपदा पीड़ित लोगों के बीच जाकर विधिक  साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया । शिविर में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री हेमंत जोशी ने उपस्थित बाढ पीड़ितों को विधिक संबंधी जानकारी देकर बताया कि आपके न्यायालय में यदि किसी भी तरह के प्रकरण विचाराधीन है ,और दोनों पक्ष सहमति से समझौता चाहते हैं तो 14 सितंबर को होने वाली नेशनल लोक अदालत में समझोता करा सकते हैं। जिससे धन समय की बचत के साथ-साथ ना कोई जिता ना कोई हारा की तर्ज पर समझौते हो सकते हैं। मध्यस्थता के संबंध में बताया कि दोनों पक्षों की काउंसलिंग करके भी समझोते कराये जा सकते हैं।
शिविर में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री आशुतोष अग्रवाल  ने बताया कि यदि किसी भी महिलाओं, बच्चों के साथ दुर्व्यवहार हो तो सहन ना करें विरोध करें। असहाय  व्यक्ति विधिक सेवा प्राधिकरण आकर मदद ले सकतें है। गरीब असहाय महिला बच्चे या अजा, अजजा, महिला  पुरुष जिनकी आय एक लाख से कम है उनको निःशुल्क वकील उपलब्ध करवाता है । यदि आप किसी की भी न्यायालय  संबंधित प्रकरण में निःशुल्क वकील की आवश्यकता है तो प्राप्त कर सकते हैं। कोई भी व्यक्ति विधिक सेवा प्राधिकरण आकर सहायता ले सकते हैं । यदि किसी को कानूनी सलाह की जरुरत भी है तो विधिक सेवा प्राधिकरण मे आकर संपर्क कर सकते हैं।  स्वास्थ्य विभाग की सुपरवाइजर/पी.एल.वी. किरण चैहान ने स्वास्थ्य  संबंधीत जानकारी देकर मौसमी बीमारियों से बचने की बाते बताई।
आंगनवाड़ी कार्यकर्ता/पेरालीगल वालंटियर श्रीमती सुनीता चैहान ने आपदा पीड़ितो के बीच टीन शेड मे जाकर परिवारों से मिलकर तीन गर्भवती महिलाओं, तथा 0 से 3 वर्ष तक के 10 बच्चों को पोषण आहार वितरित कर टीकाकरण अनिवार्य रुप से करवाने की सलाह दी। व गर्भवती माताओं को आयरन की गोली दवाई नियमित लेने की बात कही।
नेहरु युवा केंद्र की ब्लॉक समन्वयक/पेरालीगल वालंटियर कुमारी शिवानी चोयल ने पोषण आहार सप्ताह अंतर्गत पौष्टिक संतुलित आहार लेने की बात समझाई । सभी बड़ो व बच्चों को भी संतुलित व पौष्टिक भोजन खिलाने की बात कही। उन्होंने बताया पौष्टिक आहार से ही हमारे शरीर व दिमाग का विकास होता है । हमारे दैनिक जीवन में व्यायाम, संतुलित आहार का विशेष महत्व है । हम सभी संतुलित आहार ही लेवे। नशे की लत से बचें किसी भी तरह के धुम्रपान शराब बीड़ी, सिगरेट इनका उपयोग न करें। श्रीमती अनीता चोयल ने चाइल्ड हेल्प लाइन नवम्बर 1098, महिला हेल्पलाइन नंबर 1090 की जानकारी दी। शिविर में पेरालीगल वालंटियर श्री नरसिंह माली,सहित बड़ी संख्या में महिला, पुरुष, बच्चे उपस्थित थे।


Post A Comment:

0 comments: