*झाबुआ~प्राणायाम की शक्ति से मन व शरीर पर नियंत्रण होता हैं*~~

*योग से सराबोर ग्रामवासी गडवाड़ा*  ~~

झाबुआ से दशरथ सिंह कट्ठा~~

झाबुआ/मेघनगरआगराल समीप ग्राम गडवाडा के भूरिया फलिया में पंच दिवसीय योग शिविर 11 सितंबर से 15 सितंबर तक आयोजन किया जा रहा है। यह शिविर ग्रामीण जनों के सहयोग व पतंजलि योगपीठ हरिद्वार के तत्वाधान में आचार्य विश्वामित्रार्य के सानिध्य में योग प्राणायाम व्यायाम एक्यूप्रेशर एवं आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से इलाज निशुल्क रूप से किया जा रहा है। आज सुबह सैकड़ों ग्रामीणों ने योग प्राणायाम आसन व्यायाम तथा एक्यूप्रेशर से लाभान्वित हुए तथा आज शाम को 6 बजे आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का प्रयोग के लिए आरोग्य सभा का आयोजन किया गया जिसमें सैकड़ों ग्रामीणों ने इस क्षेत्र में मिलने वाली जड़ी बूटियों से रूबरू हुए आचार्य जी ने बतलाया की आक ( आकडे) का पत्ता जोड़ों में होने वाले दर्द के लिए बहुत ही उपयोगी है आंक जड़ बिच्छू के काटे जाने स्थान पर पत्थर में घस करके लगा देने मात्र से बिच्छू का जहर 5 से 10 मिनट में उतर जाता है अपामार्ग( तारेणियों झझरेटा)  प्रतिदिन उबालकर के सेवन करने से डायबिटीज पेट का दर्द पथरी तथा असाध्य रोगों का निदान होता है। शुगर के लिए * बारमासी का पांच पत्ता बेल की पांच पत्तियां तुलसी की पांच पत्तियां जामुन की पांच पत्तियां प्रतिदिन सेवन करने से भूखे पेट में शुगर समाप्त हो जाता है कुछ दिनों में इस प्रकार से आचार्य जी ने सभी रोगों के लिए योग व आर्य आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से इलाज बतलाया योग शिविर के साथ-साथ घरेलू उपचार स्वच्छता अभियान स्कूलों में बच्चों के सर्वांगीण के लिए योग व नैतिक शिक्षा तथा योग जागरण रैली के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है यह कार्यक्रम बिल्कुल निशुल्क किया जा रहा है आज सुबह सैकड़ों ग्रामीण योग शिविर में भाग लेकर के लाभ लिए। आज के शिविर में शिविर के आयोजक श्रीमान राकेश भूरिया, शांति भूरिया, रमेश भूरिया प्रकाश भूरिया , पन्नालाल भूरिया, सुकीया भूरिया , गुड्डू भूरिया दिनेश भूरिया आदि लोगों ने दीप प्रज्वलित कर आज के शिविर का शुभारंभ किया। इस शिविर का समापन दिनांक 15 सितंबर सुबह 9 बजे आयुष काम महायज्ञ के साथ समापन किया जाएगा।


Post A Comment:

0 comments: