खंडवा~सिंगाजी समाधी पर चालू हुआ भोजन प्रसादलय ..
समाधी ट्रस्ट करेगा देखरेख~~

रवि सलुजा खंडवा~

निमाड़ के चमत्कारी संत सिंगाजी महाराज की समाधि स्थल पर सिंगाजी राष्ट्र रतनलाल मंहत  द्वारा ₹20 की कुपन की परंपरा को चालू कर सभी सिंगाजी महाराज समाधि स्थल पर आने वाले भक्तों के लिए भोजन प्रसादी की एक नई पहल दिन बुधवार से चालू की गई जिसमें समस्त भक्त जो सिंगाजी समाधि स्थल पहुंचते हैं उन्हें इस भोजन प्रसादी का लाभ मिले 2 दिन से शुरू हुई इस परंपरा में 101 भक्तों ने भोजन प्रसादी  को ग्रहण करने के लिए अपने कूपन लिए और सिंगाजी समाधि स्थल प्रसादी को ग्रहण किया ग्रामीण क्षेत्र से पहुंचे भक्तों ने बताया कि  सिंगाजी महाराज निमाड़ के  चमत्कारी संत के नाम से जाने  जाते  है इस समाधि पर भक्त सिंगाजी महाराज के सामने अपनी आस्था को लेकर दर्शन को पहुंचते है और दर्शन का लाभ लेते है यहां रोजाना सैकड़ों की तादाद में भक्त दर्शन को पहुंचते हैं और दर्शन का पुणय  लाभ लेकर कुछ पल सिंगाजी महाराज के चरणों में बिताते हैं समाधि स्थल पर जो एक कमी थी वह आज सिंगाजी महाराज ने पूरी कर दी. सिंगाजी महाराज की समाधि स्थल पर जो ₹20 में भोजन प्रसाद दिया जा रहा है वह एक सबसे अच्छी पहल दूरदराज से आए हुए भक्तों को भोजन का लाभ मिलेगा  सिंगाजी समाधि स्थल पर पहुंचे भक्तों ने बड़ी तारीफ करी और इसे एक अच्छा सराहनीय कदम बताया .

श्रद्धालुओं की आस्था और विश्वास:-
दर्शन को आने वाले भक्तों का विश्वास है कि यहां उल्टा स्वास्तिक बनाने पर मांगी हुई हर मन्नत पूरी होती है मन्नत पूरी हो जाने पर श्रद्धालु सिंगाजी  दरबार में सीधा  स्वास्तिक को बनाकर अपनी आस्था प्रकट करते हैं सिंगाजी के परी निर्माण के पश्चात आज भी उनकी स्मृति में शरद पूर्णिमा के दिन मेला लगाया जाता है और इस लगने वाले मेले में हजारों की तादाद में भक्त गण अनेकों जिले से सिंगाजी महाराज का निशान लेकर अपने वाहनों के साथ-साथ भक्त नंगे पैर पैदल यात्रा करके भी पहुंचते हैं और पूणय लाभ लेते हैं

।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।


Post A Comment:

0 comments: