*बड़ी खट्टाली,~सऊदी सरकार ने तैयार कर दी उमराह की नई पॉलिसी*~~

बड़ी खट्टाली, पूरी दुनिया से उमराह तीर्थ के लिए मक्का-मदीना पहुँचने वाले मुस्लिम धर्मावलम्बियों के लिये सऊदी सरकार ने उमराह की नई पॉलिसी तैयार की है जिसका उद्देश्य तीर्थ यात्रियों को होने वाली असुविधा और धोखाधड़ी से बचाना है, इस पॉलिसी के माध्यम से कम बजट में उमराह टूर ऑर्गेनाइज़ करने वाले ऑपरेटरों पर शिकंजा कसा गया है। उल्लेखनीय है कि भारतवर्ष से भी हज के महीने को छोड़ बाकि महीनों में लाखों की तादाद में लोग पवित्र मक्का-मदीना पहुँच, उमराह (छोटे हज) की अदायगी करतें हैं..

पहले तैयार की गई उमराह पॉलिसी में दो साल में दोबारा उमराह पर जाने वाले रिपीटर यात्रियों के लिये 2000 सऊदी रियाल, पैकेज की रकम के अतिरिक्त भुगतान किए जाने का प्रावधान रखा गया था जिसमें संशोधन कर अब वीज़ा के शुल्क में बड़ौतरी की गई है,

मध्यप्रदेश हज वेलफेयर सोसायटी के चैयरमेन मुकीत खान ने उमराह की नई पॉलिसी के हवाले से बताया कि वीज़ा शुल्क जो पहले 94 सऊदी रियाल था अब उसमें 300 रियाल की बड़ौतरी के साथ ज़मीनी रखरखाव शुल्क 100 रियाल, ट्रांसपोटेशन, होटल बुकिंग एवम वैट टैक्स सहित कुल वीज़ा के नाम पर 513.19 सऊदी रियाल (भारतीय मुद्रा के रूप में लगभग 10,000/-) उमराह पर जाने वाले प्रत्येक यात्री को भुगतान करना होगा..

नई उमराह पॉलिसी में टूर ऑपरेटर को सऊदी सरकार की बहुत सी शर्तो को पूरा किये जाने के बाद ही उमराह पैकेज ले जाने की अनुमति दी जायेगी, वहीं भारत सरकार ने विदेश यात्रा पर जाने के लिये पैन कार्ड और जी.एस. टी. नम्बर होना अनिवार्य कर दिया है..

मध्यप्रदेश हज वेलफेयर सोसायटी के प्रवक्ता तस्लीम शब्बीर ने बताया कि उमराह के नियम फिलहाल जटिल है इसे और अधिक सरल किया जाना चाहिये, सीमित आय वाले लोग अधिक रकम खर्च होने की वजह से हज पर नही जा पाते इसलिये वे उमराह पर जाने का इरादा करतें हैं ताकि अपने जीवन में  पवित्र स्थलों पर जाकर पुण्य कमाया जा सके.


Post A Comment:

0 comments: