*झाबुआ~आइलमिल के पास में किस  कोयला व्यापारी ने किया शासकीय जमीन पर कब्जा और खोद दिये बीम के कालम*~~

*वही लीज जमीन पर बिना अनुमति निर्माण को गिराया जायगा एस.डी.एम - पराग जैन*~~

झाबुआ दशरथ सिंह कट्ठा की रिपोर्ट~~

झाबुआ जिले के मेघनगर में शासकीय एवं आदिवासियों की जमीनों को हथियाने का जो खेल भू माफियाओं द्वारा लंबे समय से खेला जा रहा है !
उसी को लेकर मेघनगर मे पत्रकारों ने एक मुहिम चला रखी है नगर व क्षेत्र की बेशकीमती जमीनों, दुकानों, धर्मशाला से लेकर धार्मिक स्थानों पर भी भू-माफिया धर्म के ठेकेदार बन कर करोड़ों की जमीनों पर कब्जा कर कुंडली मारकर बैठे हैं !
इसी तरह वही नगर की सर्वे नंबर 535 ए मंडी नजूल राजस्व रिकॉर्ड में शासकीय जमीन में दर्ज बताई जा रही है ! उसी जमीन को किसी कोयला व्यापारी द्वारा अपनी बताकर वहा बीम कॉलम खड़े करने के लिए बड़े-बड़े गड्ढे खोद दिए गए जिससे स्कूली बच्चों के साथ-साथ राहगीरों के लिए भी परेशानी का सबब बन रहे हैं ! जब इस विषय को लेकर एसडीएम व नगर परिषद सीएमओ से पत्रकारों ने चर्चा की तो बताया गया कि इस तरह के मामलों को हम संज्ञान में लेकर अवैध कब्जा करने वालों को नोटिस सूचना पत्र जारी कर तत्काल हटाने के लिए कार्यवाही कर रहे हैं !
बारिश होने से थोड़ा विलंब हो रहा है लेकिन अवैध निर्माण को हटा दिया जाएगा !


Post A Comment:

0 comments: