*बुरहानपुर~मौत उसकी है करे जिसका ज़माना अफ़सोस*~~       

*यूं तो सभी आए हैं, दुनिया में मरने के लिए* ~~    

*बुज़ुर्ग कांग्रेसी नेता,, और बोहरा समाज के क़द्दावर रेहनुमा शेख इस्माइल सुरूरी का निधन*~~                     

बुरहानपुर ( मेहलक़ा अंसारी)

मध्य प्रदेश राज्य पावर लूम बुनकर सहकारी संघ मर्यादित बुरहानपुर ( पावर लूम फेडरेशन) के लगभग तीन दशक तक अध्यक्ष रहे बोहरा समाज के क़द्दावर सामाजिक रेहनुमा , वरिष्ठ कांग्रेसी शेख इस्माइल सुरूरी (पूर्व में राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त) का 87 साल की उम्र में गत दिवस लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया । वह कांग्रेस के एक योग्य एवं कुशल राजनेता तो थे ही, अपने दौर में सामाजिक ,शैक्षणिक क्षेत्र एवं सहकारिता के क्षेत्र में उनका महत्वपूर्ण योगदान था । बोहरा समाज के अधीन संचालित क़ादरिया साइंस कॉलेज,, डिप्टी कॉलेज और हकीमिया  स्कूल के अतिरिक्त बोहरा समाज के कई शैक्षणिक और सामाजिक संगठनों के उत्थान में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है । देशवासियों की सेवा के लिए उन्होंने अपने शहर में डॉ ज़ाकिर हुसैन कॉलेज के नाम से भी एक कालेज भी स्थापित किया है, जो जिले में एक अग्रणी और महत्वपूर्ण स्थान रखता है और इस संस्थान से देशवासी लाभान्वित हो रहे हैं । शेख इस्माइल सुरूरी हिंदू मुस्लिम एकता के प्रबल समर्थक थे और वह बोहरा समाज और मुस्लिम सहित अन्य समाजों और धर्मों के बीच में सेतु का काम करने में और जोड़ने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है । कांग्रेस ने बुरहानपुर विधानसभा क्षेत्र से उन्हें सन 1990 में अपना प्रत्याशी बनाया था लेकिन वह ठाकुर शिव कुमार सिंह से इलेक्शन हार गए थे । युनानी तिब्बिया कॉलेज बुरहानपुर के भी वह सदस्य थे । सच तो यह है कि उनके निधन से नगर के कई शैक्षणिक संस्थान और संस्थाएं उनके संरक्षण से वंचित हो गई हैं । शेख इस्माइल शुरू हुई के निधन पर मोमिन जमात के अध्यक्ष शाह परवेज़ सलामत, मोमिन जमात के पूर्व अध्यक्ष सेठ अब्दुल रब और मोहम्मद इकराम अंसारी गब्बू सेठ,, सेवासदन कॉलेज के निवृत्तमान प्रोफेसर विजय दीक्षित, पूर्व संसदीय सचिव डॉक्टर फिरोज अली ,पूर्व विधायक हमीद क़ाज़ी, मोमिन जमात के संरक्षक हाजी रियाज़ अंसारी लाल टोपी, उपाध्यक्ष हाजी आरिफ अंसारी अलीग, फेडरेशन के पूर्व डायरेक्टर सुदर्शन मौर्य ,मोमिन जमात के सचिव हाजी शाहिद मोहम्मद अंसारी एडवोकेट,हाजी सरदार सिराज अहमद अंसारी, डाक्टर एस एम तारिक़, अब्दुल वहीद बाबू काका,, मुल्ला तफ़ज़्ज़ूल  हुसैन मुलायम वाला,, शायर नईम राशिद ,, शायर डाक्टर जलील बुरहानपुरी,, हरफ़ -हरफ़  आईना सोसाइटी बुरहानपुर के अध्यक्ष इकबाल अंसारी सहित अनेक लोगों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए  उनके निधन को बुरहानपुर के लिए अपूरणीय क्षति बताया है। उन की नमाज़ ए जनाज़ा नजमी मस्जिद दाऊद पुरा में अदा की गई एंव बोहरा समाज के रीति-रिवाज अनुसार उन्हें  दरगाह ए हकीमी में  सुपुर्द ए खाक किया गया ।


Post A Comment:

0 comments: