पलसूद~ग्राम निहाली मे रीडिंग कैम्पेन के दौरान पालको के साथ बच्चो ने पढ़ा बाल साहित्य की पुस्तके, क्रियाशील लाइब्रेरी का महत्व बताया ~~

*पलसूद से संवाददाता उमर फारूक शैख़ की रिपोर्ट*~~

पलसूद :-ग्राम पंचायत निहाली की प्राथमिक विद्यालय निहाली मे रीडिंग कैम्पेन के दौरान जनशिक्षक सुरेशचंद्र राठौड़ ने पालको व बच्चो को बाल साहित्य का नियमित उपयोग करते करते हुवे बाल साहित्य के महत्व से अवगत कराया गया साथ ही" मेरा परिवार "कहानी की पुस्तक को हाव भाव के साथ सुनाई स्थानीय शिक्षक दिलीप चौहान ने "बिल्ली के बच्चे "नामक कहानी पढ़कर सुनाई कहानी पढ़ने व सुनने से बच्चो मे पढ़ने के प्रति उत्साह व पढ़ने की आदत बढ़ रही  है व उन्हें याद रहता है व पूंछने पर संक्षिप्त मे विद्यार्थीयों ने  जवाब दिया सीएसी ने अभिभावकों को  बताया की रूम टू रीड संस्था के सहयोग से सभी प्राथमिक शालाओं मे बालसाहित्य की पुस्तके क्रियाशील लाइब्रेरी संचालन हेतु उपलब्ध कराई है, जिससे सभी शालाओं मे बच्चो तक बाल साहित्य की पंहुच बनी है तथा प्रार्थना सभा मे बच्चो  द्वारा ऐक कहानी का वाचन किया  जाता है सभी बच्चे व शिक्षक सुनते है जिससे विद्यार्थियों का रीडिंग कौशल समझ के साथ विकसित हो रहा है, बच्चो मे अभिव्यक्ति की क्षमता का विकास हुआ है ब्लॉक असोसिएट कृष्णा यादव ने भी बच्चो को कहानी सुनाई व कहानी की उपयोगिता व महत्व बताया, रीडिंग कैम्पेन जगह जगह आयोजित कर शिक्षा का महत्व व  रीडिंग से बच्चो मे ऑटोमैटिक पढ़ने की क्षमता विकसित होकर पढ़ लेते है इस दौरान कृष्णा यादव, दिलीप चौहान, बंशीलाल पिपलोदे, नानूराम रावत, पेरेंट्स नानला बर्डे, गरदास बर्डे, रामेश्वर पिपलोदे, रीता रावत, सावन्ती पिपलोदे सहित पालक बच्चे उपस्थित रहे।


Post A Comment:

0 comments: