।।  *सुप्रभातम्*  ।।
               ।।  *संस्था  जय  हो*  ।।
        ।।  *दैनिक  राशि  -  फल*  ।।
        आज दिनांक 04 अक्टूबर 2019 शुक्रवार संवत् 2076 मास  आश्विन शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि प्रातः 09:39 बजे तक रहेगी उपरांत सप्तमी तिथि लगेगी । आज सूर्योदय प्रातः काल 06:20 बजे एवं सूर्यास्त सायं 06:13 बजे होगा । ज्येष्ठा नक्षत्र दोपहर 12:17 बजे तक रहेंगा पश्चात मूल नक्षत्र आरंभ होगा । आज का चंद्रमा दोपहर 12:17 बजे तक वृश्चिक राशि मे भ्रमण करते हुए धन राशि में प्रवेश करेंगे । आज का राहू काल प्रातः 10:48 से 12:16 बजे तक रहेंगा । दिशाशूल पश्चिम दिशा में रहेंगा यदि आवश्यक हो तो जौ का सेवन कर यात्रा आरंभ करें । जय हो

                    -:  *विशेष*  :-

*षष्ठं कात्यायनी मातापूजन (षष्ठं दिवस) :-*

भगवती माँ दुर्गा जी के छठवें स्वरुप का नाम कात्यायनी है ! इनका कात्यायनी नाम पड़ने की कथा इस प्रकार है - कत नामक एक प्रसिद्ध महर्षि थे ! उनके पुत्र - ऋषि कात्य हुए ! इन्ही कात्य के गोत्र में विश्वप्रसिद्ध महर्षि कात्यायन उत्पन्न हुए थे ! इन्होने भगवती पराम्बा की उपासना करते हुए बहुत वर्षों तक बड़ी कठिन तपस्या की थी ! उनकी इच्छा थी की माँ भगवती उनके घर पुत्री के रूप में जन्म लें ! माँ भगवती ने उनकी यह प्रार्थना स्वीकार कर ली थी ! कुछ काल पश्चात जब दानव महिसासुर का अत्याचार पृथ्वी पर बहुत बढ़ गया तब भगवान् ब्रह्मा , विष्णु , महेश तीनो ने अपने - २ तेज का अंश देकर महिषासुर के विनाश के लिए एक देवी को उत्पन्न किया ! महर्षि कात्यायन ने सर्व प्रथम इनकी पूजा की ! इसी कारण से यह कात्यायनी कहलाई ! ऐसी भी कथा मिलती है कि ये महर्षि कात्यायन के यहाँ पुत्री रूप से उत्पन्न भी हुई थी ! आश्विन कृष्ण चतुर्दशी को जन्म लेकर शुक्ल सप्तमी , अष्टमी , तथा नवमी तक तीन - दिन इन्होने कात्यायन ऋषि कि पूजा ग्रहण कर दशमी को महिषासुर का वध किया था ! माँ कात्यायनी अमोघ फलदायिनी है ! भगवान् कृष्ण को पतिरूप में पाने के लिए ब्रज की गोपियों ने इन्ही की पूजा कालिंदी - यमुना के तट पर की थी ! ये ब्रज मंडल की अधिष्ठात्री देवी के रूप में प्रतिष्ठित है ! इनका स्वरुप अत्यंत ही भव्य और दिव्य है !

*आज का मंत्र :-*
|| ॐ कात्यायन्ये नमः ||

                  *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
         श्री मंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245,एम.जी.रोड (आनंद चौपाटी)धार, एम.पी.
                  मो. नं.  9425491351

                   *आज का राशि फल* 

          मेष :~ सरकार- विरोधीकार्य से संभव हो तो दूर रहें । दुर्घटना से भी बचकर चलें । बाहर के खान-पान की आदत के कारण स्वास्थ्य बिगड़ सकता  है। कार्य समयानुसार पूर्ण नहीं होंगे। व्यवसाय में भी संभलकर चले । ऊपरी अधिकारी आप के पक्ष में नहीं रहेंगे। संतान के साथ भी मतभेद उपस्थित होने की संभावना है।

          वृषभ :~ आप को रुचिकर मित्रों और स्वजनों के साथ घूमने- फिरने से आनंद- उल्लास प्राप्त होगा। सुंदर वस्त्राभूषण और भोजन का अवसर भी आप को प्राप्त होगा, परंतु मध्याहन के बाद स्वास्थ्य संभालने की ओर सावधानी बरते । खर्च अधिक होगा।

          मिथुन :~ आज आप के परिवार का वातावरण उल्लासमय रहेगा। शारीरिक स्फूर्ति और मानसिक प्रसन्नता का अनुभव होगा। आप के अपूर्ण कार्य पूर्ण होने से आनंद में वृद्धि होगी। व्यवसायिक स्थल पर वातावरण अनुकूल रहेगा। आर्थिक रूप से लाभ होने की संभावना है। मान और सम्मान प्राप्त होने से मन में संतोष का अनुभव होगा।

          कर्क :~ भविष्य के लिए आर्थिक योजना बनाने के लिए समय अच्छा है। एकाग्रतापूर्वक कार्य करने से कार्य में सफलता अवश्य मिलेगी। किसी के साथ वाद-विवाद न करें । विद्यार्थियों के लिए समय अनुकूल है। पारिवारिक वातावरण में शांति बनी रहेगी। व्यवसायिक क्षेत्र में सहकर्मियों का अच्छा सहयोग मिलेगा।

          सिंह :~ आज आप शारीरिक और मानसिक रूप से अस्वस्थ रहेंगे। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिंता रहेगी। आर्थिक रूप से हानि हो सकती है। फिर भी मध्याहन के बाद आप आर्थिक योजनाओं पर विचार कर सकते हैं। परिश्रम के अनुरूप परिणाम मिलेगा। विद्यार्थियों को कार्य में सफलता प्राप्त होगी। नए कार्य का प्रारंभ न करें। शेयर- सट्टे में साहस न करें।

          कन्या :~ नए कार्य का प्रारंभ करने के लिए समय शुभ है। प्रिय जनों के साथ मुलाकात होगी। आपके विरोधियों पर आप विजय प्राप्त कर सकेगें। मध्याह्न के बाद स्थिति में बदलाव होगा तथा मानसिक और शारीरिक रुप से कुछ व्यग्रता का अनुभव करेगें। माता का स्वास्थ्य बिगड सकता है। स्थावर संपत्ति के दस्तावेज करना आज के दिन के लिए टाले।

          तुला :~ आज दिन की प्रथम पहर में आप का स्वास्थ्य कुछ बिगड़ सकता है । तथा मानसिकरुप से ग्लानि का भाव रहेगा। परिवारजनों के साथ आज कुछ मर्यादा पूर्वक व्यवहार करें । धर्मकार्य पर खर्च होने की संभावना है। परंतु मध्याहन के बाद आप प्रसन्नता का अनुभव करेंगे। आर्थिक रूप से लाभ होगा। भाग्यवृद्धि के संकेत हैं। कार्य में सफलता प्राप्त होगी।

          वृश्चिक :~ परिवार का वातावरण हर्षोल्लास पूर्ण रहेगा। इसलिए अगर क्रोध की मात्रा बढे़ तो भी क्रोध न करें । स्नेहीजन तथा मित्रों से मिलने के प्रसंग का आनंद लें। मध्याहन के बाद नकारात्मक विचार आप को परेशान कर सकते हैं। आप की वाणी या वर्तन से परिवारजनों में से किसी को दुःख पहुंच सकता है। इससे उस व्यक्ति और आप दोनों के मन में ग्लानि का भाव उत्पन्न हो सकता है।

          धनु :~ परिवार जनों के साथ संबंधों में कुछ कडवाहट उत्पन्न हो सकती है। शारीरिक और मानसिक रूप से आप अस्वस्थ रहेंगे। शल्यक्रिया करने जैसे कार्यों को आज टाले। मध्याहन के बाद कार्य में सफलता प्राप्त होगी। परिवार का वातावरण आनंदप्रद रहेगा। शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।

          मकर :~ सामाजिक रूप से ख्याति प्राप्त होने से आज व्यवसायिक, आर्थिक तथा सामाजिक रूप से लाभदायी है। स्वास्थ्य को संभाले । वाहन चलाते समय भी सावधानी रखें । मानसिक रूप से भी कुछ अस्वस्थता का अनुभव होगा। कोर्ट- कचहरी के कार्य में संभलकर चले ।

          कुंभ :~ आप का मान-सम्मान बढेगा और धन लाभ हैं। प्रत्येक कार्य सरलता पूर्वक संपन्न होगा। कार्यालय में ऊपरी अधिकारी को आप के कार्य से संतोष रहेगा और पदोन्नति के योग हैं। व्यवसाय में लाभ भी होगा। आय में वृद्धि होने की संभावना है।

          मीन :~ व्यवसायी और व्यापारी वर्ग के लिए प्रातःकाल का समय अनुकूल नहीं है । ऊपरी अधिकारी तथा प्रतिस्पर्धीजनों के साथ व्यर्थ चर्चा या विवाद न करें । प्रवास हो सकता है। मध्याहन के बाद कार्यालय का वातावरण अनुकूल होगा। अपूर्ण कार्य पूर्ण होंगे। स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा। ( डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री  )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री  कृष्ण  ।।  जय  गुरुदेव  ।।


Post A Comment:

0 comments: