बड़वानी~रंगकर्म के प्रशिक्षुओं की प्रगति का अवलोकन करते हुए श्री दुबेे ने कहा-कला को गंभीरता से आत्मसात कर रहे हैं रंगकर्म के प्रशिक्षु~~

बड़वानी / आज रंगकर्म की कार्यशाला का अवालोकन करने का अवसर मिला। प्रशिक्षु विद्यार्थियों की गंभीरता और अनुशासन को देखकर खुशी हुई। सभी मनोयोग से रंगकर्म को आत्मसात कर रहे हैं। मेरे समक्ष दो प्रस्तुतियां भी की गईं। उन्हें देखकर आभास हो गया कि प्रशिक्षक अपना कार्य सफलतापूर्वक सम्पन्न कर रहे हैं। कॅरियर सेल की पूरी टीम को बधाई।
ये बातें शहीद भीमा नायक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बड़वानी के स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्षन प्रकोष्ठ द्वारा संचालित की जा रही अल्पावधि रंगकर्म प्रशिक्षण कार्यशाला का अवलोकन करते हुए आशा ग्राम ट्रस्ट के प्रतिनिधि सचिन दुबे ने कहीं। यह कार्यशाला प्राचार्य डाॅ. आर. एन. शुक्ल के मार्गदर्शन में संचालित की जा रही है। इन युवाओं को भीमा नायक नाट्य दल के सदस्यगण प्रीति गुलवानिया, ग्यानारायण शर्मा, विप्लव शर्मा, सावन शर्मा, राहुल वर्मा, किरण वर्मा और कॅरियर काउंसलर डाॅ. मधुसूदन चैबे द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
कार्यकर्ता और प्रशिक्षक प्रीति गुलवानिया ने बताया कि आज अतिथियों के समक्ष प्रासंगिक प्रकरणों पर आधारित दो नाटिकाएं प्रस्तुत की गईं। इनमें भूमिका निभाने वाले राहुल वर्मा, कोमल सोनगड़े, दीपिका धनगर, सूरज सुल्या, जितंेद्र चैहान, नंदिनी अत्रे, भूमिका शर्मा, डिंपल भामदरे, अंशुल सुल्या, अजय पाटीदार, अरविंद बमनके,मगाराम जाट, सुनिल धनगर, राहुल सेन, राहुल मालवीया, राहुल भंडोले,विनोद मकवाने, वर्षा मालवीया थे, जिन्होंने अपने अभिनय से अतिथियों को प्रभावित किया। यह कार्यशाला आागामी दिनों में भी जारी रहेगी।


Post A Comment:

0 comments: