बड़वानी~गाँधी जयंती पर अनुयायी स्व. हीरूभाई की प्रतिमा का हुआ अनावरण~~

बड़वानी/ राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी का जीवन मानव जगत की जीवटता का सार्थक प्रतिबिम्ब है। उन्होने हर वह कार्य स्वयं करके समाज के लिए आदर्श बना दिया जिसे करने में लोग झिझक महसूस करते हैं। उनके जीवनकाल में उन्होने हर वर्ग के कार्यों को सर्वजन व्यापी बनाकर सभी के लिए उपयोगी बनाने का काम किया ।
उक्त बातें बापू की 150वीं जयंती पर आशाग्राम पहुंचे जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री रामेश्वर कोठे ने कही। उन्होने सर्वप्रथम आशाग्राम में बापू की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किये  तत्पश्चात् बापू के अनुयायी स्व. हीरालालजी शर्मा की प्रतिमा का अनावरण भी स्व. हीरूभाई की धर्मपत्नी श्रीमती कमला शर्मा के साथ मिलकर किया । इस दौरान उन्होने कहा हीरूभाई ने सारा जीवन गांधी जी के कार्यों को आगे बढ़ाते हुए कुष्ठ उन्मूलन, स्वावलंबन, नशामुक्ति, मनोविकास, दिव्यांग पुनर्वास तथा अंबर चरखा को समर्पित कर सादा जीवन जीकर लोगों के लिए आदर्श प्रस्तुत किया  है। ज्ञात हो कि दो वर्ष पूर्व 25 जून 2017 को कर्मयोगी स्व. हीरूभाई का लम्बी बीमारी के बाद देहावसान हो गया था किन्तु वे अंतिम सांस तक ट्रस्ट के सेवा कार्यों से जुड़े रहे।
विशेष न्यायाधीश श्री दिनेश चंद्र थपलियाल ने आशाग्राम के कार्यों को गांधी के सिद्धांतों के अनुरूप बताया। ट्रस्ट के अध्यक्ष डाॅ. प्रकाश यादव ने बताया कि हीरूभाई का जीवन समाज सेवा के क्षेत्र में कार्य करने वाले लोगों के लिए प्रेरणा है, हम उन्हीं के कार्यों को विस्तार देने के लिए प्रयासरत हैं।
बड़वानी के गणमान्य नागरिकों एवं रोटेरियन के साथ कुष्ठ अंतःवासियों ने भी राष्ट्रपिता गांधी एवं स्व. हीरूभाई की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किये।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री कोठे ने आशाग्राम परिसर से ही मद्य निषेध सप्ताह 2 अक्टूबर से 8 अक्टूबर की शुरूवात करते हुए मद्य निषेध रैली व नशामुक्ति रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण अंतर्गत आशाग्राम ट्रस्ट द्वारा मद्य निषेध सप्ताह अंतर्गत विभिन्न आयोजन किये जाएगे । जिसके तहत मद्य निषेध हस्ताक्षर अभियान की शुरूवात जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री कोठे व विशेष न्यायाधीश श्री दिनेश चंद्र थपलियाल ने सर्व प्रथम अपने हस्ताक्षर करके की।
राष्ट्रीय विधिक सेवा प्रधिकरण एवं सालसा के निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा चलाए जा रहे पाॅलिथिन मुक्ति अभियान के तहत आशाग्राम ट्रस्ट में बने हस्त निर्मित केरी बेग एवं वेस्ट पेपर से बने पेकेट को पाॅलिथिन मुक्ति अभियान में जोड़कर सिंगल युज़ पाॅलिथिन का प्रयोग नहीं करने की शपथ दिलाई।
इस अवसर पर अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री आशुतोष अग्रवाल, मुख्य न्यायीक मजिस्ट्रेड श्री उत्तम कुमार डार्वी, न्यायाधीश श्री राहुल सोनी, विशाल खाड़े, सुश्री इकरा मिनहास, सामाजिक न्याय के उप संचालक श्री संजयसिंह तोमर, सहायक संचालक हाथकरघा टी.एस. अंसारी, सिविल सर्जन डाॅ. आर.सी. चोयल, श्री मदनलालजी शर्मा, आशाग्राम ट्रस्ट के न्यासी डाॅ. जगदीश यादव, डाॅ. महेश अग्रवाल, डाॅ. एम.एस. सोलंकी, सिस्टर सुसो, शब्बीरभाई यूनिटी, गोपाल भावसार, रोटरी क्लब अध्यक्ष डाॅ. चक्रेश पहाड़िया, पूर्व अध्यक्ष ओमप्रकाश गुप्ता, अशोक दोशी, स्व. हीरूभाई के परिजन अनिल शर्मा, दीपक शर्मा, मुकेश शर्मा, मनीष शर्मा आदि उपस्थित थे।


Post A Comment:

0 comments: