बड़वानी~गांधी दर्शन पर कन्या महाविद्यालय में हुई विभिन्न प्रतियोगिता ~~

बड़वानी / शासकीय कन्या महाविद्यालय, बड़वानी में महात्मा गाँधीजी की 150वीं स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर  प्रतिदिन विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रतियोगिता में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली छात्राओं को पुरस्कृत भी किया जा रहा है।
संस्था की प्रभारी प्राचार्य डाॅ. स्नेहलता मुजाल्दा से प्राप्त जानकारी अनुसार सोमवार को संस्था में “महात्मा गाँधी मेरी नजर में” विषय पर भाषण प्रतियोगिता, “महात्मा गाँधी का अहिंसा सिद्धांत” विषय पर निबंध प्रतियोगिता, “महात्मा गाँधी का स्वच्छ भारत” विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में छात्राओं ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया।
कार्यक्रम के सह संयोजक डाॅ. मनोज वानखेड़े से प्राप्त जानकारी अनुसार निबंध प्रतियोगिता में कुमारी कविता जमरे ने प्रथम स्थान, कु. जेनिफर शेख द्वितीय स्थान, कुमारी फिरदोस खान ने तृतीय स्थान  प्राप्त किया। जबकि कुमारी रजनी धनगर एवं कुमारी भूरी भिड़े ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया ।
कार्यक्रम के दौरान डाॅ. मनोज वानखेड़े ने बताया कि गाॅधी जी का मानना था कि सत्यरूपी साध्य की खोज का नैतिक होना अनिवार्य है और यह खोज अहिंसारूपी साधन द्वारा ही की जा सकती है। उनका मानना था कि अहिंसा वह मुख्य तत्व है जिसके द्वारा कठिन से कठिन संकटो में सफलता प्राप्त की जा सकती ह।
इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डाॅ. स्नेहलता मुझाल्दा, डाॅ. मनाज वानखेड़े, डाॅ. सायना खान, डाॅ. सुनीता भायल, डाॅ. रोहित पाटीदार, प्रो. देवेन्द्र सिंह, प्रो. प्रियंका शर्मा, श्री संदीप दसौंधी एवं छात्राएँ उपस्थित रही।


Post A Comment:

0 comments: