*झाबुआ~जैन मित्र नि:शुल्क स्वेटर वितरण के कार्यक्रम का हुआ विशाल एवं  ऐतिहासिक आयोजन-पैलेस गार्डन झाबुआ में वितरित किए गए 1215 स्वेटर,~~

जैन मित्र शैलेन्द्र घीया ने बच्चों में किया संस्कार रूपी बीजों का रोपण~~





जिले के प्रमुख तीनो मुखिया की गरिमामय उपस्थिति में हुआ अद्भुत एवं  ऐतिहासिक आयोजन ~~





झाबुआ। दूसरे दिन 23 नवंबर शनिवार को * जैन मित्र* नि:शुल्क स्वेटर वितरण का अद्भुत एवं ऐतिहासिक कार्यक्रम् का आयोजन जिला मुख्यालय झाबुआ पर पैलेस गार्डन में हुआ। गरिमामय समारोह में मुख्यअतिथि मुंबई निवासी शैलेन्द्र घीया द्वारा स्कूली बच्चो में संस्कार रूपी बीजों का रोपण एवं जिला दहेज सलाहकार बोर्ड-डीपीए के अध्यक्ष तथा जिला बाल कल्याण समिति के वरिष्ठ सदस्य यषवंत भंडारी द्वारा बच्चो को ओजस्वी उद्बोधन देने के बाद सभी स्कूली बच्चों को अलग.अलग काउंटर बनाकर करीब 1215 स्वेटरों का वितरण किया गया। झाबुआ पूरे कार्यक्रम के संयोजक लोकस्वामी  जिला प्रमुख संजय जैन जगावत और राजेंद्र भंडारी रहे।





भावभरा बहुमान किया ...





सर्वप्रथम समारोह का शुभारंभ अतिथियों द्वारा मां सरस्वतीजी एवं श्री नमस्कार महामंत्र की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वजलन कर किया गया। अतिथियों का स्वागत किया। मुख्य अतिथि शैलेन्द्र घीया एवं यशवंत भंडारी का साफा पहनाकर तथा माला पहनाकर और शाल ओढ़ाकर भावभरा बहुमान किया गया। 





संपूर्ण जिले में करेंगे 10 हजार से अधिक स्वेटर वितरण----





अपने उद्बोधन में जिला दहेज सलाहकार बोर्ड -डीपीएके अध्यक्ष एवं जिला बाल कल्याण समिति के वरिष्ठ सदस्य यशवंत भंडारी ने उपस्थित विभिन्न स्कूलों के छात्र-छात्राओं को जानकारी देते हुए बताया कि आज देश की महानगरी मुंबई से आपके क्षेत्र में दानवीर एवं जैन मित्र शैलेन्द्र घीया,उनकी धर्मपत्नि श्रीमती सुषीला घीया एवं उनके भांजे अंकुर जैन पधारे है,जो मानव सेवा ही माधव सेवा को मानकर चलने वालों में से है। उनके द्वारा आप सभी बच्चों को कड़कड़ाती ठंड से बचाव के लिए स्वेटर वितरण किए जाएंगे। श्री घीया द्वारा संपूर्ण जिले में 10 हजार से अधिक स्वेटरों का वितरण किया जाना है,हम सभी उनके इस पुण्य कार्य की सभी खूब-खूब अनुमोदना करते है। 





18 वर्ष से कम उम्र में लड़कियां नहीं करे शादी-जीवन में शराब-मांसाहार का भी करे त्याग





बाद मुख्य अतिथि मुंबई से पधारेश्री घीया ने अपने संस्कार रूपी उद्बोधन में बच्चों से मुख्य रूप से कहा कि आप सभी बच्चे देष का भविष्य है। बालिकाएं यह ध्यान रखे कि वह 18 वर्ष से कम उम्र में शादी नहीं करे एवं ऐसे लड़के से शादी नहीं करेए जो मांस एवं शराब का सेवन करता होए जीव हिंसा पाप है। हम इनकी बजाय पोष्टीक वनस्पतियों का सेवन करे। हम नित्य रात्रि में भी एक बार ब्रष करेए सोने से पहले ब्रश करने से हमारे दांतों में रात में सोने के दौरान किटाणु जमा नहीं होंगे और हमारी अगली सुबह तरोताजा होगी। श्री घीया ने बच्चों को शिष्टाचार का पाठ भी पढ़ाया एवं कहा कि यदि जीवन में कोई भी आपकी मद्द करता हैए तो उसे बदले में थैंक्यू बोले और यदि आपसे कोई गलती हो जाती हैए तो उसके लिए आप संबंधित से सॉरी बोलने की आदत डालेए इन दो अच्छी आदतों से आप जीवन में हमेषा खुश रहेंगे। कार्यक्रम का संचालन निखिल भंडारी  ने किया एवं आभार झाबुआ केंद्र के संयोजक संजय जैन जगावत ने माना। 





1215 स्वेटरों का किया गया वितरण...... 





उद्बोधन पश्चात् झाबुआ क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली 4 स्कूलों के करीब 1215 बच्चों को उन्हें पूर्व में वितरित किए उनकी साईज अनुसार कूपन के अनुरूप इन बच्चों को स्टॉल लगाकर स्वेटरों का वितरण किया गया। संपूर्ण आयोजन को सफल बनाने में सहयोग सुनील संघवी,अशोक संघवी,दौलत गोलानी, श्री सिकरवार,जयेन्द्र बैरागी,यशवंत सिंह पंवार पत्रकार,संदीप जैन राज रतन,निखिल भंडारी कप्तान सत्तावत  ,प्राचार्य रातीतलाई रविंद्र सिसोदिया,शैलेन्द्र डेनियल बुनियादी स्कूल ,प्राचार्य महेश जैन माधोपुरा स्कूल के साथ सभी क्लास टीचरों आदि का रहा।





जिले के प्रमुख तीनो मुखिया की गरिमामय उपस्थिति में हुआ अद्भुत ऐतिहासिक आयोजन... 





इस भव्य आयोजन में विशेष अतिथि के रूप में जिले के प्रमुख तीनो मुखिया क्रमश कलेक्टर प्रबल सिपाहा.पुलिस अधीक्षक विनीत जैन एवं जिला पंचायत सीईओ/अपर कलेक्टर संदीप शर्मारमेश दोषी ट्रस्टी बावनगजा  अतिशय तीर्थ,आनन्दीलाल संघवी संरक्षक श्वेताम्बर श्री संघ,श्रीमती अर्चना राठौर महिला आयोग सखी,श्रीमती सपना संघवी अध्यक्ष नवकार ग्रुप,श्रीमती शीतल जादोन रोटरी इनर व्हील क्लब मैत्री,कु आरजू संघवी जिला उपाध्यक्ष भारतीय जैन संघटना , संजय कांठी सचिव रोटरी मंडल जगदीश सिंह उद्योगपति लुधियाना मुख्य रूप से अपनी सहभगिता दर्ज कराई। कलेक्टर ने श्री घीया जी की इस कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि आज में इस कार्यक्रम मै सहभागी हुआ उसके लिए मै समस्त आयोजकों का आभारी हु और जो संस्कार घीया जी ने अपने उद्भोधन में जो संस्कार बच्चो को दिए है उसे बच्चो में क्रियान्वित करने की हम पूरी कोशिश भी करेंगे ।












Post A Comment:

0 comments: