*मनावर ~उमरबन क्षेत्र में कार्ड संस्था के पूर्व कर्मचारी ने की कपास खरीदी के नाम से किसानों के साथ धोकाधड़ी*~~                           

*मई माह में कारवाई को लेकर दिया गया था भारतीय किसान संघ द्वारा दिया गया आवेदन* ~~                     

*विचार न्यूज ने उठाया था मामला~~

*मामले का मुख्य मास्टर मांईड प्रवेश शुक्ला को उमरबन चौकी पर किया गया गिरफ्तार*~~

निलेश जैन मनावर ~~

गत मई माह में मनावर उमरबन क्षेत्र के किसानों के साथ कपास खरीदी को लेकर एक धोकाधड़ी का मामला सामने आया था। जिसमें किसान कैलाश मालवीया ने कहा था कि क्षेत्र में कार्ड संस्था में पूर्व में काम कर रहे कर्मचारी द्वारा क्षेत्र के किसानों से अधिक मूल्य में कपास खरीदी कर कही चले गये थे । इस मामले को लेकर मनावर उमरबन क्षेत्र में किसानों ने बताया कपास खरीदी के नाम कार्ड संस्था के पूर्व कर्मचारी प्रवेश शुक्ला एवं अन्य दो साथियो द्वारा क्षेत्र किसानों से कपास खरीदा गया था । हालाकि प्रवेश शुक्ला को कार्ड संस्था से फरवरी माह में ही निकाल दिया गया था। प्रवेश शुक्ला ने कार्ड संस्था की आड़ में क्षेत्र के भोले भाले किसानों को कहा कि हमें सरकार ने कपास खरीदी का लक्ष्य दिया है। किसानों को धोखा देकर मंडी भाव से दो सौ रुपये प्रति क्विटल ज्यादा के भाव में कपास खरीद कर एक सप्ताह में पेमेंट कर देने की बात कही गई थी । किसानों ने कहा कि संस्था की आड में कर्मचारियों द्वारा कपास खरीदकर तीन माह होने के बाद भी किसानो को भुगतान नहीं किया। ज्ञात है कि गत तीन माह पूर्व मामले को लेकर भारतीय किसान संघ के अध्यक्ष दयाराम पाटीदार ने किसानो के साथ हुए धोकाधड़ी के मामले को लेकर प्रकरण दर्ज करने हेतु मनावर पुलिस पर आवेदन दिया गया है । इस पूरे कपास खरीदी कांड के मस्टर माईन्ट प्रवेश शुक्ला को दो दीन पूर्व उमरबन चौकी पर किसानों के साथ धोकाधड़ी तथा दिये गये चेक बांऊस मामले में गिरफ्तार किया जा चूका है । क्षेत्र के किसानों के साथ हुई धोकाधड़ी आरोपी द्वारा चेक बांऊस के मामले में जनपद अध्यक्ष योगेन्द्रसिंह मुवेल, सरंपच सत्या इस्के एवं कई धोखाधड़ी के शिकार किसानों द्वारा ज्ञापन दिया गया । किसानों द्वारा धार कलेक्टर को जनसुनवाई में भी ज्ञापन दिया गया था ।


Post A Comment:

0 comments: