रिंगनोद~मुबारक सफर उमराह पुर्ण कर वापसी आये हाजी का किया स्वागत~~

नगर में चल समारोह निकालकर मांगी देश की खुशहाली की दुआ~~

रिंगनोद-मक्का और मदीना शरीफ के मुकद्दस उमराह के तमाम अरकान अदा कर मंगलवार को  नगर  के शिक्षक अतीक कुरैशी के वालिद व वरिष्ट हाजी अख़लाक़ मोहम्मद कुरैशी के आने पर समाजजनों ने स्वागत कर चल समारोह निकाला। मुकद्दस उमराह यात्रा मक्का-मदीना शरीफ में करीब 15 दिन इबादत व जियारत के बाद वतन वापस लौटने पर हाजी कुरैशी के परिजनों व समाजजनों ने पुष्प माला पहनाकर इस्तकबाल किया।
उमराह यात्रा से लौटे हाजी अख़लाक़ मोहम्मद कुरैशी ने बताया कि अल्लाह व रसूल का करम है की मुझे मुकद्दस हज के बाद दोबारा उमराह करने की तौफिक मिली। मक्का-मदीना शरीफ के तमाम मकामात पर इबादत व जियारत की। आका-ए-करीम  की बारगाह में सलाम पेश करने का  और इबादत का मुबारक मौका मिला था इस पर सर जमीने हिन्दुस्तान की कौमी एकता , उन्नति और खुशहाली के लिए खास दुआ की।
चल समारोह में हाजी आफताब कुरैशी , हाजी मंजूर अली सैयद , हाजी रेहमत खान , हाजी बाबू मास्टर साहब ,अय्यूब पठान मनावर,सईद भाई झाबुआ , सरदार पटेल, अकबर खान, असगर अली, श्याम सुंदर माहेश्वरी,हुकमीचंद धोका,वासुदेव शर्मा, मोहन डामर ,शरीफ खान लताफत हुसैन,  निसार अली, असलम चक्कीवाला ,मुस्तफा खान, काले खान, नूर अली सैयद ,कालू कुरेशी ,सरफराज कुरेशी, अशफाक ठेकेदार, लक्ष्मी नारायण पाटीदार ,अमृत राठौर,रमेश भाटी,अफजल अली सैयद ,अरशद कुरैशी नसरत खान, जाकिर कुरेशी, अनवर खान, मुन्ना भाई, गफूर खान, हनीफपठान, जावेद मोहम्मद कुरेशी, कमरुद्दीन शाह, निसार अली ,हमीद भाई, कल्लू खान सहित बड़ी संख्या में आसपास के नगरों के हिंदू मुस्लिम समाजजन मौजुद रहें


Post A Comment:

0 comments: