बड़वानी~आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने  के लिये कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक हुये सम्मानित ~~

बड़वानी /कृषि विज्ञान केन्द्र बड़वानी के वरिष्ठ वैज्ञानिक डाॅ. एसके बड़ोदिया को उनके शोध पत्र हेतु हिसार के कृषि महाविद्यालय में सम्मानित किया गया है। श्री बड़ोदिया का यह सम्मान आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिये दिया गया है।
हिसार के चैधरी चरणसिहं कृषि विष्वविद्यालय में आयोजित इस सम्मेलन में डाॅ. एस. के. बड़ोदिया को अनुसंधान, कृषि प्रसार एवं कृषि विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्ठ योगदान के साथ-साथ किसान समुदाय के विकास के लिए किए गए कृषि हस्तांतरण जैसे जल प्रबंधन तकनीक में सुक्ष्म सिचांई के क्षेत्र को बढ़ाने, जैविक खेती, फसल विविधता, एकीकृत कृषि प्रणाली के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के साथ आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में परपरांगत फसलों की देषी किस्मों के संरक्षण के साथ  अन्य विषयों पर शोध कार्य के लिए इंडियन सोसायटी आॅफ एक्सटेंषन एजुकेषन द्वारा फेलो अवार्ड से सम्मानित किया गया । सम्मेलन के दौरान डाॅ. बड़ोदिया द्वारा अपने शोध पत्र ’’विभिन्न कृषि तकनीकियों/गतिविधियों द्वारा आदिवासी कृषक समुदाय की आय में वृद्वि करने हेतु उद्यमीता विकास’’ प्रभावी प्रस्तुति दी गयी ।
सम्मेलन में यह अवार्ड बाॅंदा कृषि एवं प्रौद्योगिकी विष्वविद्यालय (यू.पी.) के कुलपति डाॅ यू.एस. गौतम, पूर्व योजना आयोग के सदस्य डाॅ सदामते, चैधरी चरणसिहं हरियाण कृषि विष्वविद्यालय के कुलपति डाॅ के. पी. सिहं, डाॅ. जी. त्रिवेदी, रांची कृषि विष्वविद्यालय के पूर्व कुलपति एवं डाॅ सी. प्रसाद द्वारा प्रदान किया गया ।


Post A Comment:

0 comments: