*जोबट~बिरसामुण्डा की  मूर्तिस्थापना रथयात्रा स्वागत,रैली को लेकर भव्य तैयारी हेतु बैठक सम्पन्न*~~

रिजवान शेख~~

जोबट..एक तरफ अयोध्या के फैसले पर देशभर के लोगो की नजर है वही आदिवासी समाज अलीराजपुर के समाज जनो द्वारा सामाजिक समरसता का परिचय देते हुए आगामी 15 नवम्बर राष्ट्र गौरव महामानव बिरसामुण्डा की 144वी जयंती है जिसको लेकर जिलेभर में बैठक का दौर चालू है।
मूर्तिस्थापना अलीराजपुर जिले के कट्ठीवाड़ा में 15 नवम्बर को होना है जिसकी तैयारी एक महीने से चली आरही है और आज मूर्ती लेने हेतु रथ सुबह 8 बजे विधायक पटेल और सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा हरि झंडी दिखाकर किया गया। इसके बाद जिलेभर में तैयारियां ओर जोरो से होने लगी इसी कड़ी में आज जोबट ब्लॉक के छात्रावास ओर स्थानीय कार्यकर्ताओं की बैठक स्थानीय छात्रावास परिसर में सम्पन्न हुई जिसमें सेकड़ो कार्यकर्ता उपस्थित हुए और भगवान बिरसामुण्डा के सिद्धांतों पर चलने का निर्णय लिया।
जिले से आये वक्ताओं द्वारा छात्रों और समाज के लोगो को बताया के भगवान बिरसामुण्डा 18वी सदी के महानायक रहे है और उनकी लड़ाई जल,जंगल,जमीन,अपनी संस्कृति,परम्परा को बचाये रखने का काम कर अपने क्षेत्रों में अंग्रेजो को घुसने नही दिया।
जमीदारों सूदखोरों को भी सबक सिखाया ओर मात्र 25 वर्ष की युवा अवस्था मे रांची के कारागार में शहीद हो गए।
इसलिए हमें ऐसे राष्ट्र नायक का सम्मान कर उनकी जयंती धूमधाम से मनाकर सामाजिक सन्देश देने की आवश्यकता है।
आज देश मे आदिवासी समाज अपने अस्तित्व को लेकर सँघर्ष कर रहा है और हमे समाज को एकजुट कर जाती,धर्म,पार्टी से ऊपर आकर सामाजिक सदभावना का सन्देश देने का संकल्प लेना है।
     बैठक में आगामी 13 नवम्बर को जोबट में शाम 5 बजे बाग रोड पर बिरसामुण्डा के रथ का भव्य स्वागत कर रैली निकाली जाएगी जिसके बाद कॉलेज होस्टल परिसर में सभा कर रात्रि विश्राम किया जाएगा।
इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में आने की अपील की गई।ये उपस्थित रहे नवलसिंह कलेश,लालसिंह डॉवर,वीरेंद्र बघेल,ठाकुर अजनार, दिलीप निगवाल कलम सोलंकी रामपाल सोलंकी दिलीप डुडवे ,वेस्ता सिंगाड  नीलेश डावर ,मोतेसिंग भूरिया मुकेश चौहान धीरू कनेश,राजू कनेश,संदीप बघेल, आदि उपस्थित थे


Post A Comment:

0 comments: