बड़वानी~भारतीय संविधान -पूरे देश को एक सूत्र में पिरोने का माध्यम है और हम भारतीयों की शक्ति है-न्यायाधीश श्री जोशी~~

बड़वानी /संविधान दिवस पर नेहरू युवा केन्द्र बड़वानी द्वारा विभिन्न विकास खंडों में आयोजित कार्यक्रम के तहत शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय, शासकीय कन्या महाविद्यालय बड़वानी एवं मधुबन कालेज बड़वानी में संविधान दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर सर्वप्रथम श्री भीमराव अम्बेडकर के चित्र पर मालार्पण किया गया। तत्पश्चात जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री हेमंत जोशी ने  अधिवक्ता एवं स्वयंसेवियों तथा विद्यालय के छात्रों एवं स्टाफ के साथ संविधान की उद्देशिका को पढ़कर सुनाया गया।
डॉ भीमराव अंबेडकर की 125 वीं जयंती पर वर्ष 2015 में 26 नवंबर को संविधान दिवस घोषित किया गया था। तब से प्रतिवर्ष 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। 26 नवंबर 2019 को पांचवा संविधान दिवस है। हमारा संविधान 26 नवंबर 1949 को बनकर पूर्ण हो गया था तथा इसे 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया। इसका निर्माण डॉ राजेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता वाली संविधान सभा द्वारा 2 वर्ष 11 माह और 18 दिन में किया गया। 9 दिसंबर 1946 को संविधान सभा की पहली बैठक हुई थी और 26 नवंबर 1949 को संविधान बन गया था, संविधान में मूलतः 395 अनुच्छेद थे।


Post A Comment:

0 comments: